नई दिल्ली. दिल्ली से बीजेपी सांसद उदित राज ने कहा कि हाल के दिनों में गिरजाघरों (चर्च) पर हुए हमलों का सांप्रदायिकता से कोई लेना-देना नहीं है. उदित राज ने कहा, ‘कुछ तत्व हैं जो सरकार को बदनाम करने की नीयत से यह काम करते हैं.’ उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि इन हमलों का सांप्रदायिकता से कोई संबंध है. 

उन्होंने कहा, ‘चाहे वह ईसाई हो अथवा कोई और केंद्र सरकार सभी के लिए है और हम सभी की सुरक्षा के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं.’ कुछ कट्टरपंथी हिदू संगठनों द्वारा ‘घर वापसी’ अभियान चलाकर मुस्लिमों को हिंदू धर्म में परिवर्तित कराने के सवाल पर उदित राज ने कहा, ‘इसमें कोई भी सरकारी एजेंसी संलिप्त नहीं थी और यह सभी गलत कारणों से सुर्खियों में रहा था.’

उदित ने कहा, ‘हमारा नेतृत्व चिंतित है और इस तरह के कदमों से सरकार की छवि को नुकसान न पहुंचे इसके लिए कदम उठाए जा रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मुद्दे पर सरकार के मत को पहले ही स्पष्ट कर दिया है. ऑल इंडिया कन्फेडरेशन ऑफ एससी/एसटी ऑर्गनाइजेशन के अध्यक्ष उदित राज ने कहा कि इस तरह की गतिविधियों में जो लोग शामिल हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

उनसे जब पूछा गया कि क्या हिंदुत्ववादी समूहों को यह अहसास हो गया है कि जातिगत भेदभाव के कारण धर्मपरिवर्तन हुए थे तो उन्होंने कहा कि कुछ कारणों से लोगों ने धर्म परिवर्तन किया था. उन्होंने कहा, ‘निरक्षरता और अन्य समस्याओं के कारण ऐसी स्थिति बनी.’

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App