नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में कहा है कि किसान के जीवन से बड़ी कोई चीज नहीं है. मोदी ने कहा कि .’कई वर्षों से किसानों की आत्महत्या चिंता का विषय रहा है. कल की घटना के कारण पूरे देश में जो अभिव्यक्ति की पीड़ा है उसमें मैं शामिल हूं.’ उन्होंने कहा कि  समस्या बहुत पुरानी और व्यापक है और उसे उस रूप में लेना पडेगा. जो भी अच्छे सुझाव आएंगे उस पर अमल किया जाएगा. किसान की जिंदगी से बड़ी कोई चीज नहीं है.

  समस्या बहुत पुरानी और व्यापक है और उसे उस रूप में लेना पडेगा. जो भी अच्छे सुझाव आएंगे उस पर अमल किया जाएगा. किसान की जिंदगी से बड़ी कोई चीज नहीं है.

किसानों के समस्या का समाधान खोजना है. किसान को असहाय नहीं छोड़ सकते. हम सब मिलकर किसानों को ना मरने दे. इससे पहले राजनाथ सिंह ने आज संसद में कहा कि किसान का आत्महत्या करना दु्र्भाग्यपूर्ण है.