नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी से निकाले गए वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण पर आशीष खेतान ने गंभीर आरोप लगाए हैं. आप नेता खेतान ने भूषण परिवार पर बेईमानी से संपत्ति हासिल करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘मैं भूषण परिवार को बख्शने नहीं जा रहा हूं. या तो वे अपनी ईमानदारी साबित करें या मेरी बेईमानी.’

खेतान ने कहा कि उन्होंने तो लोकसभा चुनाव के दौरान दिए हलफनामे में अपनी संपत्ति का पूरा ब्योरा दे दिया था. अब प्रशांत भूषण को यह बताना चाहिए कि उनके परिवार के पास 500 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कैसे आई. अगर सिर्फ कोर्ट में पीआईएल लगाकर कोई संपत्ति बना सकता है, तो पीआईएल से ज्यादा अच्छा उद्यम देश में और कोई नहीं हो सकता.

खेतान ने कहा, ‘अगर वे सबूत देते हैं कि मैंने खबर लिखने के लिए धन स्वीकार किया तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा. अगर वह इसे साबित नहीं कर सके तो उन्हें सार्वजनिक जीवन छोड़ देना चाहिए.’ प्रशांत भूषण ने उनकी निष्पक्षता और ईमानदारी पर सवाल उठाया है, इसलिए अब वह चुप नहीं रहेंगे और पूरी जांच करके यह खुलासा करेंगे कि भूषण परिवार ने इतनी संपत्ति कैसे बनाई.

इससे पहले सोमवार देर रात आम आदमी पार्टी की अनुशासन समिति ने प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव समेत चार लोगों को पार्टी से निकाल दिया.
इसके बाद प्रशांत भूषण ने कहा, ‘वही लोग, यानि पंकज गुप्ता और आशीष खेतान, जिनके ऊपर बहुत गंभीर आरोप लग चुके हैं, यही लोग हम पर फ़ैसला करेंगे.’ भूषण के मुताबिक इन पर एक फर्जी कंपनी के नाम पर दो करोड़ रुपए के चेक लेने और एक पत्रिका में एस्सार कंपनी से पैसे लेकर उनके पक्ष में लेख लिखने के आरोप हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App