Tuesday, August 16, 2022

Saturn Transit 2020: शनि गोचर 2020 और 2022 का इन पांच राशियों पर पड़ेगा गहरा असर, होगा बंपर लाभ

नई दिल्ली. साल 2020 की 24 जनवरी में पूरे 30 साल बाद शनि मकर राशि में गोचर करेंगे. ज्योतिष शास्त्र में शनि की मकर और कुंभ राशि बताई गई है. यानी इस बार शनि स्वंय की राशि में प्रवेश करेंगे. साल 2022 में शनि स्वंय राशि कुंभ में गोचर करेंगे. इस साल और 2022 में शनि के मकर और कुंभ राशि में प्रवेश करने से पांच राशियों की किस्मत खुलने जा रही हैं. वे सभी पांच राशियां हैं मेष, वृषभ, कर्क, तुला और मकर राशि. शनि के दोनों राशियों में गोचर से इन सभी राशियों को साल 2025 तक लाभ की प्राप्ति होगी.

मेष राशि के लोगों को शनि का गोचर सिर्फ 2020 ही नहीं साल 2025 तक लाभ देगा. इस राशि के लिए शनि दसवें और ग्यारवहें भाव के स्वामी हैं. साल 2020 में शनि जब मकर में प्रवेश करेंगे तो दसवें भाव का फल मिलेगा. लोगों को नौकरी में प्रमोशन, पिता के साथ सामंजस्य और मान-सम्मान मिलेगा. साल 2022 में शनि जब कुंभ में प्रवेश करेंगे तो मेष राशि के लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. पैसा कमाने के नए जरिए मिलेंगे. आर्थिक हालात मजबूत होगी. मन की सभी इच्छाएं पूर्ण होंगी.

शनि वृषभ राशि के लिए नौंवे और दसवें भाव के स्वामी होते हैं. 24 जनवरी 2020 को शनि मकर राशि में गोचर करेंगे जिसका जातकों पर नौंवे भाव का फल मिलेगा. इस राशि के लोगों के भाग्य में वृद्धि होगी और सभी काम पूरे होंगे. साथ ही लोग धार्मिक क्रियकिलापों में बढ़कर हिस्सेदारी लेंगे. 29 अप्रैल 2022 में शनि जब कुंभ राशि में गोचर करेंगे तो इन्हें 10वें भाव का लाभ मिलेगा. जिसकी वजह से इस राशि के लोगों को मान-सम्मान मिलेगा. कोई उच्च पद की प्राप्ति हो सकती है. जिन्हें नौकरी नहीं मिल रही उन्हें नौकरी मिलेगी.

कर्क राशि के लिए शनि सातवें और आठवें भाव के स्वामी होते हैं. शनि जब मकर राशि में गोचर करेंगे तो कर्क राशि के लोगों को शानदार लाभ की प्राप्ति होगी. साथ ही जो अविवाहित हैं और वर-वधु की तलाश कर रहे हैं उनकी तलाश पूरी होगी. जल्द विवाह का योग बनेगा. साथ ही लोगों के व्यक्तित्व में निखार आएगा. लेकिन जब शनि का गोचर कुंभ राशि में होगा तो उस दौरान शनि कर्क राशि के आठवें भाव में गोचर करेंगे. इसकी वजह से आपको लॉटरी या सट्टे में फायदा मिल सकता है. साथ ही ससुराल पक्ष से भी कुछ लाभ हो सकता है.

शनि राशि के लिए तुला राशि के लोग चौथे और पांचवें भाव के स्वामी होते हैं. मकर राशि में जब शनि महाराज गोचर करेंगे तो उस समय चौथे भाव का फल मिलेगा. इससे तुला राशि के लोगों के सुखों में बढ़ोतरी होगी. साथ ही संतान की प्राप्ति होगी. माता का पूर्ण सुख मिलेगा. शनि कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे तो पांचवे भाव का फल मिलेगा जिससे प्रेम संबंध अच्छे होंगे. संतान सुख की प्राप्ति होगी. साथ-साथ इस राशि के छात्रों को कई तरह के लाभ मिलेंगे.

शनि का मकर राशि में गोचर लग्न भाव पर प्रभावशाली रहेगा. इस दौरान मकर राशि के लोगों को संघर्ष करना पड़ेगा. इन लोगों को मान-सम्मान की प्राप्ति होगी. लोगों को अच्छा-बुरा समझने में सहायता मिलेगी. शनि जब कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे तो मकर राशि के लोगों को धन की बंपर प्राप्ति होगी. इसके साथ ही इस दौरान परिवार का पूर्ण सुख मिलेगा. आपके घर में कोई नया मेहमान भी आ सकता है. पैतृक संपत्ति की प्राप्ति हो सकती है. साल 2025 तक समय शुभ रहेगा.

Latest news