इस्लामाबाद. पाकिस्तान में 25 जुलाई तो असेंबली यानी आम चुनाव होने जा रहा है. ऐसे में राजनीतिक दलों के सदस्य वोटरों को रिझाने के लिए एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं. हेराल्ड मेगजीन के प्रांतीय पब्लिक ओपिनियन सर्वे के अनुसार, पाकिस्तान के पंजाब, सिंध, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में इमरान खान की पार्टी पीटीआई, शाहबाज शरीफ की पीएमएल-न और बिलावल भु्ट्टो की पीपीपी के बीच कड़ा मुकाबला है. जबकि भारी संख्या में वोटर अभी तक कोई फैसला नहीं कर पाए हैं. आइए जानते हैं कि सर्व के अनुसार, किसकी पार्टी को मिल रहा है कितना वोट.

पंजाब
पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में शाहबाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग(पीएमएल-न) को 40 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. जबकि 33 फीसदी वोट इमरान खान की पार्टी पीटीआई को मिल सकती है. बिलावल भुट्टो की पीपीपी को पंजाब प्रांत से महज 7 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. वहीं अन्य पार्टियों को 13 फीसदी वोट मिल सकती है, जबकि 14 प्रतिशत मतदाता ऐसे भी हैं जो अभी तक फैसला नहीं कर पाए हैं कि किस पार्टी को वोट देंगे. पंजाब के आंकडो़ं से साफ है कि यहां पीएमएल को बढ़त मिलती नजर आ रही है.

खैबर पख्तूनख्वा
पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में पीटीआई को 43 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. वहीं पीएमएल-न को सिर्फ 10 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. जबकि पीपीपी को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत से 12 फीसदी वोट मिल सकती हैं. वहीं 20 फीसदी वोट अन्य पार्टियों की झोली में जा सकती हैं. खैबर पख्तूनख्वा के 15 फीसदी वोटरों ने अभी कोई फैसला नहीं किया है. आंकड़ों को देखें तो यहां इमरान खान की पीटीआई भारी बढ़त के साथ ओपिनियन सर्वे में पहले नंबर पर बनी हुई है जबकि शाहबाज शरीफ की पीएमएल-न को यहां नुकसान होता नजर आया है.

पब्लिक सर्वे  इमेज क्रेडिट- हेराल्ड 

बलूचिस्तान
पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में पीपीपी को 15 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. वहीं पीएमएल-न और पीटीआई को 11-11 फीसदी वोट मिल सकते हैं. बलूचिस्तान के करीब आधे 51 फीसदी लोग प्रांत की अन्य पार्टियों को अपना वोट दे सकते हैं. वहीं 12 फीसदी लोग फैसला नहीं कर पाए हैं. आंकड़ों के अनुसार, पीपीपी यहां बढ़त बनाए हुए है.

सिंध
पाकिस्तान के सिंध प्रांत में 54 फीसदी लोग पीपीपी को वोट दे सकते हैं. 11 फीसदी वोटर पीटीआई की ओर जा सकता है कि तो महज 4 फीसदी वोट पीएमएल-न के खाते में आने का अनुमान है. यहां अन्य दलों को 17 फीसदी वोट मिल सकती है जबकि 11 फीसदी वोटरों ने अभी तक फैसला नहीं किया है.

अर्बन सिंध
पाकिस्तान के अर्बन सिंध से 25 फीसदी वोट पीपीपी को जा सकती हैं. पीटीआई को 19 फीसदी जबकि पीएमएल-न को 15 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. अर्बन सिंध से 26 फीसदी वोट अन्य दल खींच सकते हैं जबकि 11 फीसदी वोटर कोई फैसला नहीं कर पाए हैं.

पाकिस्तान चुनाव 2018: पाक चुनाव में आर्मी से सहयोग के आरोपों को इमरान खान ने नकारा, नवाज शरीफ के बहाने भारत पर साधा निशाना

पाकिस्तान चुनाव 2018: बलूचिस्तान में बीएपी पार्टी दफ्तर के सामने विस्फोट में 20 घायल, आत्मधाती हमले में इमरान खान के एक प्रत्याशी की भी मौत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर