इस्लामाबाद. पाकिस्तान में 25 जुलाई को असेंबली चुनाव यानी आम चुनाव होने जा रहा है. चुनाव का नतीजा 37 जुलाई को आएगा. चुनाव को सिर्फ दो दिन बाकी रह गए हैं. शाहबाज शरीफ की पीएमएल-न, इमरान खान की पीटीआई और बिलावल भुट्टो की पीपीपी में कड़ा मुकाबला बताया जा रहा है. ऐसे में सभी पार्टियों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया. पाक चुनाव की रैलियों में इस भारत का नाम काफी लिया जा रहा है. हाल ही में भाषणों में पूर्व क्रिकेटर इमरान खान और नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ भारत का जिक्र कर चुके हैं.

इमरान खान ने एक भाषण में कहा था कि अगर पाक चुनाव में आवाम वोट देकर उन्हें प्रधानमंत्री बनाती है तो वे पाकिस्तान को हिंदुस्तान बना देंगे. उन्होंने कहा कि अगर लोग भारत की तरह तरक्की चाहते हैं तो उन्हें वोट दें. वहीं बीते दिन खैबर पख्‍तूनख्‍वा में रैली करते हुए इमरान ने भारतीय मीडिया पर साजिश का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा कि भारतीय मीडिया का कहना है कि इन चुनावों में पाकिस्तान सेना अहम भूमिका निभा कर रही है.

वहीं दूसरी ओर पूर्व पीएम नवाज शरीफ के भाई और पीएमएल-न चीफ शाहबाज शरीफ भी भारत को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं. पाकिस्तान के सरगोधा में एक रैली को संबोधित करते हुए शाहबाज ने कहा था कि अगर सत्ता में आने के बाद पाकिस्तान को भारत से आगे नहीं ले गया तो मेरा नाम बदल देना. शाहबाज शरीफ ने कहा था कि भारतीय लोग वाघा बोर्डर पर आएंगे और पाकिस्तानियों को अपना गुरु कहेंगे.

पाकिस्तान चुनाव सर्वे: इमरान खान की पार्टी आगे निकली, पिछड़ गए नवाज के भाई शाहबाज शरीफ

पाकिस्तान चुनाव 2018: पंजाब, सिंध, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा में कौन जीतेगा, पाक चुनाव सर्वे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर