इस्लामाबादः पाकिस्तान चुनाव 2018 से पहले बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पिपुल्स पार्टी (पीपीपी) को एक तगड़ा झटका लगा है. पीपीपी प्रमुख बिलावल भुट्टो के पिता और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को फेडरल जांच एजेंसी (एफआईए) ने भगोड़ा घोषित किया है. जरदारी के अलावा उनकी बहन फरयाल तालपुर को भी एफआईए ने भगोड़ा घोषित किया है. जरदारी पर 35 अरब रूपए का घपला करने का आरोप है. उन पर आरोप है कि उन्होंने 35 अरब रूपयों की संदिग्ध लेन-देन की और उसके लिए कुछ विशेष खातों का इस्तेमाल किया.

इससे पहले कोर्ट के आदेश पर आंतरिक मंत्रालय ने इन दोनों को देश से बाहर जाने पर पाबंदी लगा दी थी. वह बार-बार कोर्ट के आदेश के बावजूद इस मामले में पेश नहीं हो रहे थे. इसके बाद उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया गया. उनके अलावा उनकी बहन फरयाल तालपुर को भी भगोड़ा घोषित किया. जबकि 18 अन्य लोगों को भी भगोड़ा घोषित किया गया. अब देखना यह है कि इससे बिलावल भुट्टो की पार्टी को आम चुनावों में कितना नुकसान होता है.

आपको बता दें कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव होने हैं. पाक चुनाव से पहले पाकिस्तानी राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. इस बार पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज), इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) और मरहूम बेनजीर भुट्टो के बेटे बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के बीच कड़ा मुकाबला है. फिलहाल सर्वे और ओपिनियन पोल में इमरान खान की पार्टी आगे चल रही है. 

Pakistan Elections पाकिस्तान चुनाव 2018: बेटे-बहू ने किया विरोध तो पाक चुनाव में खड़े उम्मीदवार ने की आत्महत्या, चुनाव टला

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर