लाहौर: पाकिस्तान आम चुनाव (Pakistan election results 2018) के रिजल्ट सामने आ चुके हैं जिसमें पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने जीत दर्ज की. पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने जा रहे इमरान खान की पीटीआई को सरकार बनाने के लिए गठबंधन की जरूरत पड़ेगी. पाकिस्तान असेबंली में कुल 342 सीटें हैं जिनमें से 272 सीटों पर प्रत्यक्ष रूप से चुनाव होता है और 60 सीटें महिलाओं और गैर मुस्लिम समुदाय के लिए रिजर्व हैं. पाकिस्तान चुनाव रिजल्ट 2018 में 270 सीटों में से 116 सीटें इमरान खान की पीटीआई को मिलीं. लेकिन गौर करने वाली बात ये है कि पाक चुनाव में जीत दर्ज कर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी तहरीक-ए-इंसाफ के इमरान खान की चुनाव नतीजों के बाद से ही सोशल मीडिया और खास तौर पर ट्वीटर पर बोलती बंद है.

पाकिस्तान चुनाव के रिजल्ट आए पांच दिन होने चले हैं और सोशल मीडिया फोरम ट्वीटर पर पूरा सक्रिय रहने वाले पाकिस्तान के भावी पीएम इमरान खान ने उस पर नतीजों पर कुछ नहीं कहा है, वोटरों या कार्यकर्ताओं को शुक्रिया तक नहीं कहा है, ये भी नहीं बता रहे हैं कि सरकार कैसे बन रही है, किसके समर्थन से बन रही है, कब शपथ ले रहे हैं.

Imran Khan Profile: क्रिकेट से राजनीति का सफर तय करने वाले पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान की प्रोफाइल

पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने आखिरी बार 25 जुलाई को वोट के दौरान क्वेटा में हुए बम धमाके को लेकर ट्वीट किया था जिसमें 31 लोग मारे गए थे. इमरान खान ने इस ट्वीट में क्वेटा आंतकवादी हमले की निंदा की थी. इसके बाद से पीटीआई चीफ ट्वीटर पर खामोश हैं. टोटल सन्नाटा पसरा हुआ है पांच दिन से. 

चुनाव प्रचार में भारत को गिन-गिन कर गाली देने वाले इमरान खान जीतते ही बोले- इंडिया से दोस्ती और व्यापार बढ़ाएंगे

इमरान खान अभी तक सरकार बनाने की गहमागहमी पर भी चुप्पी साधे हैं. उन्होंने अभी तक इस बारे में भी सोशल मीडिया अकाउंट पर कुछ नहीं कहा है. सवाल यह उठता है कि सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले इमरान खान इतनी बड़ी जीत के बाद से शांत कैसे हैं. इमरान खान ने चुनावी जीत के बाद 26 जुलाई को टीवी के जरिए देश की जनता को संबोधित किया लेकिन ट्विटर पर गायब हैं.

पाकिस्तान जीतकर इमरान खान भारत से बोले- कश्मीर अहम, रिश्ता सुधारें, व्यापार बढ़ाएं, इंडियन मीडिया ने विलेन बनाया

इमरान खान ने 26 जुलाई को टीवी के जरिए भारत, चीन, अमेरिका से रिश्तों के अलावा पाकिस्तान की अंदरुनी समस्याओं का जिक्र किया. इमरान खान ने कहा था कि भारतीय मीडिया ने उन्हें विलेन की तरह पेश किया और वो बातचीत के जरिए भारत से दोस्ती और व्यापार बढ़ाना चाहते हैं.

पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने जा रहे इमरान खान की जीत पर पहले और अब की तीन बीवियों ने क्या कहा

पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस से पहले 11 अगस्त को शपथ लेंगे नए प्रधानमंत्री इमरान खान, बहुमत को जोड़-तोड़ जारी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App