opinion

चार बार रची गई नेहरू के कत्ल की साजिश….!

नई दिल्ली : यूं तो नेहरू की मौत 27 मई 1964 को हुई थी, लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि इससे पहले भी चार बार नेहरू के कत्ल की साजिश हुई थी. हर बार वो कभी अपनी तो कभी....Read More

जानिए भगत सिंह के गुरु की क्रांतिकारी शहादत, जिसका फोटो भगत रखते थे जेब में

नई दिल्ली: वो 1925-26 का दौर था, सरदार भगत सिंह पर क्रांति का रंग पूरी तरह से चढ़ चुका था. वो नौजवान भारत सभा बना चुके थे और हिंदुस्तान सोशलिस्ट पार्टी के जरिए चंद्रशेखर आजाद जैसे क्रांतिकारियों से भी जुड़ चुके....Read More

‘जो जीता वही सिकंदर’ के 25 साल, जानिए कुछ दिलचस्प बातें

नई दिल्ली: आमिर खान के लिए आज दोहरी खुशी का दिन है, आज जहां उनकी फिल्म दंगल ने चीन के बॉक्स ऑफिस पर 725 करोड़ की कमाई कर एक नया रिकॉर्ड बनाया है, वहीं आज उनकी सुपरहिट मूवी जो जीता....Read More

अगर उस दिन न होता गामा पहलवान तो मार दिए जाते सैकड़ों हिंदू

नई दिल्ली: एक पाकिस्तानी ने पाकिस्तान के एक अखबर नेशन में लिखे एक लेख में गामा पहलवान के नाती को भारत में जिस तरह का सम्मान मिला और पाकिस्तान में यूथ जिसे जानते तक नहीं, इस बात को लेकर चिंता....Read More

1857 की क्रांति के पीछे का सीक्रेट हैंड…..!

नई दिल्ली: बढ़ी हुई दाढ़ी में आप इस लेख के साथ जो रेखाचित्र देख रहे हैं, वो अजीमुल्लाह खान का है, लेकिन ये आज की पीढ़ी के लिए खास इसलिए हो जाता है कि उस दौर में जब कैमरे नहीं....Read More

काबुल की संसद में बाजपेयी को हराने वाले हाथरस के राजा की मोदी ने क्यों की जमकर तारीफ?

नई दिल्ली: 25 दिसम्बर 2015 का दिन था, दुनियां क्रिसमस मना रही थी, भारत में बाजपेयीजी का जन्मदिन मनाया जा रहा था और पाकिस्तान में जिन्ना के साथ साथ नवाज शरीफ की सालगिरह मनाई जा रही थी. पीएम मोदी रुस....Read More

ये चार केस बताते हैं, आसानी से छोड़ने वाला नहीं संघ

हाल ही में चार केस ऐसे हुए हैं, जिनके बारे में कभी कभी चर्चा होती है लेकिन उन केसेज को आरएसएस या उससे जुड़े लोगों ने जिस आक्रामक मूड से फॉलो किया है, उससे लगता है कि अब आसानी से....Read More

जब एयर इंडिया के प्लेन में चीनी पीएम के लिए लगा दिया गया था टाइम बम…!

नई दिल्ली: 11 अप्रैल की तारीख चीन और भारत के सम्बंध में एक ऐसी घटना के लिए जानी जाती है, जो अगर कामयाब हो जाती तो शायद भारत और चीन के बीच पंचशील समझौता हो ही नहीं पाता और युद्ध या तो....Read More

कभी कहलाता था ब्रहमा की आंख, अब कहते हैं खूनी हीरा

ब्लैक ओरलोव, फिलहाल दुनियां भारत के इस हीरे को इसी नाम से जानती है. कभी पांडिचेरी के एक मंदिर में ब्रहमाजी की मूर्ति की आंख में लगा हुआ था. वैसे भी ब्रह्माजी के गिने चुने मंदिर हैं देश में, ऐसे....Read More

असेम्बली बम कांड: 1 बना महान, दूसरे से मांगा गया स्वतंत्रता संग्राम सेनानी होने का सबूत

साठ के दशक की बात है पटना में बसों के परमिट दिए जाने थे, सैकड़ों लोगों ने आवेदन किया हुआ था, लाइन में एक पैंतालीस-पचास साला व्यक्ति भी था. जब वो पटना के कमिश्नर से मिला और उसने अपना नाम....Read More

authors

vishnu-sharma

Stories 88