लखनऊ. लोकसभा चुनाव 2019 के लिए उत्तर प्रदेश की दो मजबूत पार्टियों ने गठबंधन किया है, प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन हुआ है. वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला बोला है. योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को गोरखपुर में गुरु गोरखनाथ मंदिर में मकर संक्राति के मौके पर खिचड़ी चढ़ाने के बाद मीडिया से बात की है. योगी ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला बोलेते हुए कहा कि नाक टेकने और रगड़ने वाला यह गठबंधन ज्यादा दिन तक नहीं चलेगा.

इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि सपा और बसपा का यह गठबंधन अराजकता और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए हुआ है. इससे पहले भी मुलायम सिंह और कांशीराम के बीच गठबंधन हुआ था जो अधिक समय नहीं टिक पाया था. वहीं योगी ने किसी का नाम न लेते हुए गेस्ट हाउस कांड का भी जिक्र किया कि प्रदेश में यह गंठबंधन अपने आत्मसम्मान और स्वाभिमान को छोड़कर हुआ है. दोनों पार्टियों के बीच यह गठबंधन सौदेबाजी के लिए हुआ है और प्रदेश की जनता इस स्वीकार नहीं करेगी. एक बार फिर से प्रदेश में बीजेपी की अधिक सीटें होंगी और नरेंद्र मोदी ही देश के प्रधानमंत्री होंगे.

बता दे कि उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने बताया कि आने वाले लोकसभा चुनावों में सपा-बसपा 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और कांग्रेस की दो सीटें अमेठी और रायबरेली पर अपना कोई उम्मीदवार नहीं उतारेगी.

Gorakhpur Lok Sabha Election 2014 Winner: गोरखपुर लोकसभा सीट से 2014 में बीजेपी के प्रत्याशी योगी आदित्यनाथ ने सपा, बसपा सहित कांग्रेस को चटाई थी धूल

Om Prakash Rajbhar On Hindu Muslim Riot: यूपी के सीएम योगी के सहयोगी ओम प्रकाश राजभर का विवादित बयान, कहा- दंगा फैलाने वाले नेताओं को जला दो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App