नई दिल्लीः योग गुरु बाबा रामदेव ने एनआरसी मुद्दे पर बात करते हुए मीडिया से कहा कि देश में अवैध रूप से रहने वाले हर एक शख्स को बाहर निकालना चाहिए. फिर चाहे वो रोहिंग्या हो, पाकिस्तानी हो या फिर बांग्लादेशी ही क्यों ना हो. उन्होंने कहा कि अगर अवैध रूप से रहने वाले लोगों को बाहर नहीं निकाला गया तो देश में कश्मीर जैसी स्थिति पैदा हो जाएगी. उन्होंने कहा कि पहले ही कश्मीर की समस्या आज तक अनसुलझी है. 

रोहतक में मस्तनाथ मठ के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे रामदेव ने आरक्षण को लेकर भी अपनी राय रखी. इस मामले पर उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था को बदलना चाहिए. रिजर्वेशन दलित या पिछड़ों में समर्थ लोगों को नहीं मिलना चाहिए. रामदेव ने कहा कि इसमें क्रीमी लेयर को भी परिभाषित किया जाना चाहिए. जब तक देश में गरीबी रहेगी तब तक आरक्षण के लिए ये आग ऐसे ही जलती रहेगी. रामदेव ने एनआरसी मुद्दे पर भी बातचीत की.

उन्होंने कहा कि हम एक कश्मीर की समस्या से पहले ही जूझ रहे हैं. अगर रोहिंग्या को यहां रहने की इजाजत मिल गई तो कश्मीर के जैसी 10 समस्याएं और खड़ी हो जाएंगी. रामदेव ने एनआरसी से साथ-साथ आरक्षण के मुद्दे पर भी मीडिया से बातचीत की उन्होंने कहा कि आरक्षण का लाभ पिछड़ों और दलितों में संपन्न लोगों को नहीं मिलना चाहिए. इसमें भी क्रीमी लेयर को परिभाषित किया जाना चाहिए. 

यह भी पढ़ें- NRC मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने हेजेला को लगाई फटकार कहा- कोर्ट की अवमानना में आपको जेल क्यों ना भेजा जाए

असम एनआरसी पर कांग्रेस का बड़ा हमला- मनमोहन सरकार ने 82 हजार बांग्लादेशियों समेत अवैध विदेशियों को निकाला, मोदी सरकार ने 1822

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App