नई दिल्ली. पतांजलि के संस्थापक और योग गुरु बाबा रामदेव ने सीएए और एनआरसी पर चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने कहा है कि किसी भी व्यक्ति से उनकी नागरिकता नहीं छीनी जा रही है, लोगों को गलत जानकारियां दी जा रही है उनके मन में डर पैदा किया जा रहा है. भारत में रहने वाले मुसलमानों को देश से नहीं निकाला जा रहा है उन्हें गलत तरीके से चीजों को बताया जा रहा है उनके मन में जहर भरा जा रहा है. सीएए के जरीए भारत में रहने वाले किसी भी नागरिक की नागरिकता नहीं जाएगी. जो ये कर रहे हैं ये बहुत ही गलत कर रहे हैं. कुछ घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय ताकतें हैं जो समाज में विभाजन पैदा करना चाहती है.

बता दें जब से देश में सीएए लाया गया है पूरे देश में प्रोटेस्ट देखने को मिल रहा है कई जगहों पर प्रोटेस्ट अभी भी जारी है. खास कर भारत में रहने वाले मुसलमानों इस एक्ट का विरोध कर रहे हैं. लेकिन इस विरोध के बाद भी केंद्र सरकार ने ये साफ कह दिया है कि चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन ये कानून के लिए कोई बदलाव नहीं होगे. यूपी में प्रोटेस्ट कर रहे 1200 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी जिसमें ज्यादातर महिलाएं है.

वहीं दिल्ली के शाहीन बाग में मुस्लिम महिलाएं आज भी धरना प्रदशन कर रही हैं काफी महिनों से उनकी मांगे जारी हैं. बता दें सीएए और एनआरसी का विरोध केवल भारत में ही नहीं बल्कि कई देशों में हो रहा हैं. जिसको लेकर भारत ने भी कड़ा रुख अपनाते हुए साफ कर दिया है कि सीएए और एनआरसी पर किसी भी प्रकार का कोई बदलाव नहीं होगा. इसके अलावा सीएए और एनआरसी को चुनौती देने के लिए सुप्रीम कोर्ट में भी 144 याचिका दर्ज की गई है. याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में कहा कि बीना केंद्र की बात सुने बिना कानून पर रोक नहीं लगाएंगे.

JNU Violence: जेएनयू हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने दर्ज की एफआईआर, हिंसा में घायल जेएनयूएसयू अध्यक्ष आइशी घोष को मिली एम्स से छुट्टी

CAA और NRC : केंद्र सरकार अपनी नाकामयाबी छिपा रही है या चुनाव की तैयारी कर रही है BJP

PM Narendra Modi Rally In Delhi On CAA Highlights: दिल्ली के रामलीला मैदान से देश को किया प्रधानमंत्री मोदी ने संबोधित- नागरिकता कानून और NRC पर कांग्रेस और अर्बन नक्सल अफवाह फैला रहे हैं, पढ़ें अहम बातें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर