नई दिल्ली. आर्थिक मार झेल रहे यस बैंक पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की एक महीने में 50 हजार रुपए निकासी की पाबंदी के बाद देशभर में हाहाकार है. आरबीआई की पाबंदी का असर शेयर बाजार में तेजी से पड़ा है. शुक्रवार सुबह यस बैंक के शेयरों में 82 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली जो पिछले 52 हफ्तों में सबसे कम रहा.

आरबीआई की पाबंदी के बाद गुरुवार को यस बैंक के शेयर 27 फीसदी नीचे गिरे थे जो सुबह होते होते 80 प्रतिशत तक पहुंच गए. केंद्रीय बैंक की पाबंदी के बाद ही निवेशकों ने यस बैंक के शेयर में निवेश करने से हाथ पीछे कर लिए.

गौरतलब है कि बीएसई पर यस बैंक के शेयरों में 82 फीसदी तक गिरावट के बाद नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर शेयर 60 प्रतिशत तक नीचे रहे. बैंक की बिगड़ती आर्थिक हालात को देखते हुए कोई भी निवेशक शेयरों में हाथ नहीं डालना चाहता है. हालांकि, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जल्द ही बैंक की हालात सुधरने की बात कही है.

नरेंद्र मोदी सरकार में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यस बैंक पर आरबीआई की पाबंदी से किसी भी खाताधारक को परेशान होने की जरूरत नहीं है. बैंक में जमा सभी पैसा सुरक्षित रहेगा. आरबीआई बैंक की हालात को सुधारने की पूरी कोशिश कर रहा है.

RBI Restrictions on Yes Bank: यस बैंक पर आरबीआई की पाबंदी, 1 महीने में निकलेंगे सिर्फ 50 हजार, वित्त मंत्री बोलीं- सभी का पैसा सुरक्षित

RBI Restrictions on Yes Bank: आरबीआई की यस बैंक पर पाबंदी, राहुल गांधी, अखिलेश यादव समेत इन नेताओं ने नरेंद्र मोदी सरकार को घेरा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App