Saturday, December 10, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
Pitch Report

IND vs BAN: वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज, जानिए चटगांव की वेदर-पिच...

0
नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज खेला जाएगा। ये मैच चटगांव के जबुर अहमद...
आम आदमी पार्टी को मिलेगा राष्ट्रीय पार्टी होने का दर्जा

राष्ट्रीय पार्टी बनने पर मुफ्त बंगले के साथ-साथ यह सुविधाएं मिलेंगी आम आदमी पार्टी...

0
नई दिल्ली। गुजरात में करारी हार झेलने के बाद शोक मना रही आम आदमी पार्टी के लिए खुशी का क्षण आ गया है, इस...
Team India

IND vs BAN: आज लाज बचाने उतरेगी टीम इंडिया, जानिए कैसा रहेगा संभावित...

0
नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज खेला जाएगा। भारत पहले ही 2 मुकाबला हार...
(AAP से कांग्रेस में वापस लौटने वाले अली मेहदी)

दिल्ली एमसीडी: AAP में जाने वाले 2 पार्षद वापस कांग्रेस में क्यों लौटे? ये...

0
दिल्ली एमसीडी: नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम चुनाव परिणाम आने के बाद अभी भी राष्ट्रीय राजधानी में हाई वोल्टेज ड्रामा जारी है। आम आदमी पार्टी...
आप में शामिल हुए कांग्रेसी नेता ने फिर से थामा कांग्रेस का दामन

आधी रात को पार्टी में लौट आए कांग्रेस के बागी, बोले बहुत बड़ी गलती...

0
नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम चुनाव के परिणाम आने के महज 48 घंटों के भीतर ही कांग्रेस के तीन पार्षदों ने आम आदमी पार्टी...

Russia-Ukraine war: रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति का बड़ा बयान, ‘तीसरा विश्व युद्ध’ ही विकल्प..

Russia-Ukraine war

नई दिल्ली,  Russia-Ukraine war रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है. अमेरिका समेत अन्य देशो ने रूस पर कई पाबंदियों का ऐलान किया है, लेकिन इसके बावजूद भी रूस मानने को तैयार नहीं है. अब इसको लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि रूस पर लगाए गए प्रतिबंधों का एकमात्र विकल्प ‘तीसरा विश्व युद्ध’ की शुरुआत होगी. रूस के साथ युद्ध लड़ा जाए और तीसरे विश्व युद्ध शुरू किया जाए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यदि युद्ध नही होता है तो इसका दूसरा उपाय ये है कि जो देश अंतरराष्ट्रीय कानून के विपरीत काम करें, उन्हें ऐसा करने के लिए एक कीमत चुकानी पड़े.

अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने आगे कहा कि कोई भी ऐलान तत्काल नहीं है. मुझे लगता है कि ये आर्थिक और राजनीतिक प्रतिबंध इतिहास में सबसे व्यापक प्रतिबंध हैं. 

रूस पर लगाए गए बड़े प्रतिबंध

रूस द्वारा यूक्रेन पर किए गए हमले के बाद अमेरिका, ब्रिटेन समेत यूरोपीय संध ने रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाए हैं. अमेरिका समेत इन सभी ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन और विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव और आर्मी चीफ की संपत्तियों को जब्त करने का ऐलान किया हैं. अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी जे. ब्लिंकन ने एक बयान में कहा था कि रूस द्वारा बेवजह यूक्रेनी नागरिको पर अत्याचार किया जा रहा है, इसका खामियाजा रूस को आर्थिक और राजनीतिक तौर पर उठानी पड़ेगी।

यह भी पढ़ें:

Ukraine Russia war: UNSC में रूसी हमले पर मतदान, चीन और भारत ने बनाई दूरी

Latest news