मुंबई. रिश्वतखोरी हमेशा से एक बड़ी समस्या रही है. आपने रिश्वतखोरों के बारे में सुना होगा कि आखिर इतना पैसा कैसे हजम होता है तो इसका जीता जागता उदाहरण जान लीजिए. मुंबई के कोल्हापुर में एक महिला पुलिसकर्मी रिश्वत लेती पकड़ी गई तो उसने उसे चबाकर निगलने की कोशिश की. मामला पश्चिमी महाराष्ट्र के कोल्हापुर के चंदरगढ़ पुलिस स्टेशन का है. बुधवार को एक महिला पुलिसकर्मी ने रिश्वत के 300 रुपये लिये थे. लेकिन एसीबी की टीम ने उसे रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया तो पुलिस कर्मी ने उन रुपयों को चबाकर खाने की कोशिश की.

महिला पुलिसकर्मी के रुपये निगलने की कोशिशों को एसीबी की महिला पुलिसकर्मी ने नाकाम कर दिया. अधिकारियों ने गुरुवार को मामले की जानकारी देते हुए कहा कि दीपाली खडके नाम की महिला कांस्टेबल को चांदगढ़ पुलिस स्टेशन में रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया. उसने एक 28 वर्षीय युवक से 300 रुपये घूस की मांग की थी. युवक पासपोर्ट के लिए करेक्टर सर्टिफिकेट के लिए पुलिस स्टेशन आया था जहां उससे दीपाली ने 300 रुपये रिश्वत की मांग की.

करेक्टर सर्टिफिकेट के लिए रिश्वत की मांग किए जाने पर शिकायतकर्ता ने एसीबी कोल्हापुर के यहां शिकायत दर्ज कराई. इस शिकायत के आधार पर रिश्वतखोर कॉन्सटेबल को पकड़ने के लिए पुलिस द्वारा ही जाल बिछाया गया. शिकायतकर्ता ने जैसे ही रिश्वत दी उसी वक्त दीपाली को रंगेहाथ पकड़ लिया गया. खुद को घिरता देख दीपाली ने रिश्वत में मिले 300 रुपयों को मुंह में डाल लिया और तेजी से चबाकर निगलने की कोशिश की. तभी एक अन्य महिला पुलिस कर्मी ने दीपाली को पकड़ लिया और उसके मुंह से चाबे हुए रुपये निकलवा लिए. एसीबी ने साक्ष्य के रूप में चबे हुए नोट बरामद कर लिये हैं. इस मामले पर अधिकारियों न कहा कि आगे की जांच चल रही है.

डेंटल काउंसिल के रजिस्ट्रार के लॉकर पर सीबीआई का छापा, दस्तावेजों पर मिला स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का नाम

कानपुरः CBI ने GST कमिश्नर संसार सिंह को गिरफ्तार किया, 1.5 लाख की रिश्वत लेने का है आरोप