नई दिल्ली। व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर लोगोंमें सवाल हैं। व्हाट्सऐप जिस तरह से डाटा के संबंध में अपनी नई नीति लेकर आया है उससे बवाल मचा हुआ है। अब व्हाट्सपेए को भारत सरकार ने पत्र लिखकर नई नीतियों के संबंध में कहा कि नई नीतियां भारत सरकार को अस्वीकार्य हैंऔर इसे वापस लेनेकी बात भी भारत सरकार नेकही। सरकार ने व्हाट्सऐप के सीईओ विल कैथार्ट को पत्र लिखा जिसमें सेवा, गोपनीयता शर्तों में किसी भी एकतरफा बदलाव को अनुचित ठहराया और इसे अस्वीकार भी किया है।

सरकार ने व्हाट्सऐप के आगे यह भी रखा कि गोपनीयता नीति में प्रस्तावित बदलाव गंभीर चिंताएं पैदा कर रहेहैं। उन्हें वापस लेना चाहिए। भारत के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से कड़ाई से व्हाट्सऐप के सीईओ विल कैथार्ट को पत्र लिखा गया और कड़े शब्दों में लिखकर कहा कि भारत दुनिया में व्हाट्सऐप का सबसे बड़ा उपयोगकर्ता है और उसकी सेवाओं के लिए सबसे बड़ा बाजार है। मंत्रालय ने व्हाट्सऐप से प्रस्तावित बदलावों को वापस लेने और सूचना गोपनीयता, चयन की आजादी और डेटा सुरक्षा को लेकर अपने नजरिए पर फिर से विचार करने को कहा।

गौरतलब है कि व्हाट्सएप ने अपनी प्राइवेट पॉलिसी में बदलाव किया  है जिसके मुताबिक व्हाट्सएप आपसे ये अनुमति मांगेगा कि वो आपके चैट- ऑडियो वीडियो सबकुछ देख सकता है. अगर आप व्हाट्सएप को ये अधिकार नहीं देते हैं तो आपका व्हाट्सएप बंद हो जाएगा. इस पॉलिसी का भारत में जबर्रदस्त विरोध हुआ और लोग विकल्प के तौर पर सिग्नल एप का इस्तेमाल करने लगे हैं.

New Whatsapp privacy policy: नई पॉलिसी बनी व्हाट्सऐप के लिए खतरा, गूगल प्ले स्टोर से सिग्नल ऐप हुआ दनादन डाउनलोड

Gold Purchase KYC : सोने चांदी की खरीद पर नए नियम लागू, KYC करानी होगी जरूरी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर