मुंबई. आर्यन खान केस के वक़्त से ही एनसीपी नेता नवाब मालिक सुर्ख़ियों में बने हुए हैं, महाराष्ट्र की सियासत में इस समय नवाब मालिक का नाम गूँज रहा है. अब खबर है कि महाराष्ट्र की महा विकास अघाडी (MVA) की सरकार में मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) के अंतर्गत आने वाले विभाग में एक कथित घोटाले ( Waqf Board land scam case ) के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने गुरुवार को छापा मारा है. यह छापा सात जगहों पर मारा गया है.

पुलिस ने बोर्ड के 2 ट्रस्टियों को पकड़ा

पुणे की बंदगार्डन पुलिस के मुताबिक जिन 2 लोगों को इस मामले में अगस्त में पकड़ा गया था वह बोर्ड के ट्रस्टी थे. दरअसल इनके खिलाफ कुछ लोगों ने आरोप लगाया था कि इन्होने निजी लाभ के लिए सम्पत्तियों का इस्तेमाल किया था.

फडणवीस को लेकर भी चर्चा में बने हुए हैं मलिक

इस समय नवाब मालिक सुर्ख़ियों में बने हुए हैं. एक ओर जहाँ उनके खिलाफ ED ने छापेमारी की है, तो वहीं दूसरी और देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है. बता दें कि बीते दिनों एनसीपी नेता नवाब मालिक ने बीते दिनों महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर जाली नोट के मामले को दबाने का आरोप लगाया था. उन्होंने ये भी कहा था कि जब फडणवीस सत्ता में थे तब उन्होंने कई भ्रष्ट लोगों को कैबिनेट में जगह दी थी. नवाब मालिक के इन आरोपों के बाद से ही उनके और देवेंद्र फडणवीस के बीच तकरार जारी है.

यह भी पढ़ें :

Nawab malik vs Devendra fadnavis: नवाब मलिक पर देवेंद्र फडणवीस की पत्नी का हल्ला बोल, भेजा कानूनी नोटिस

NZ Vs ENG सेमीफाइनल में जीत के बाद खुशी मनाते नजर नहीं आए नीशम, बोले काम अभी खत्म नहीं हुआ

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर