बिहार, पटना के जिम ट्रेनर विक्रम सिंह पर हुए जानलेवा हमले का मामला रोज़ नए मोड़ ले रहा है. इस मामले में आरोपित फ़िज़ियोथेरेपिस्ट डॉक्टर और उनकी पत्नी को जेल भेज दिया गया है. बता दें कि विक्रम सिंह पर जानलेवा हमला करने वाले शूटर सहित हत्या की सुपारी लेने वाले मिहिर सिंह सहित अमन, आर्यन और शमशाद को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

आरोपित डॉक्टर ने पेश की सफाई

बीते दिनों जिम ट्रेनर विक्रम पर जानलेवा हमले का मामला सामने आया था, इस मामले में कथित तौर पर आरोपित शूटर को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था, जिनके बयान के बाद आरोपित डॉक्टर और उनकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तारी के एक दिन पहले डॉक्टर ने अपने फेसबुक हैंडल पर अपनी सफाई पेश की है, उन्होंने लिखा कि, “नमस्कार, मैं आपको यह बता देना चाहता हूं कि यह पुलिस का इन्वेस्टिगेशन है. मुझे उनपर पूरा भरोसा है कि वो लोग अच्छा निर्णय लेकर आएंगे.”

उन्होंने आगे लिखा, “कुछ मीडिया हाउस को मसाला मिल गया है. एक डॉक्टर और समाजसेवी का चीरहरण कर चुके हैं. रही बात नजदीकी की, तो कोई भी अगर एक साल से घर आ रहा तो एक फैमिली जैसा रिश्ता हो जाता है. आपके घर कोई नौकरी कर रहा, वह क्या सोच के आया है उसके मन में क्या चल रहा यह कोई कैसे जानेगा कि वह आपको सपोर्ट करने आया है या बर्बाद? कोई महिला क्या सेल्फ डिपेंडेंट नहीं हो सकती? कोई जिम नहीं कर सकती? कल क्या जवाब देंगे जब पुलिस की जांच में कुछ और आएगा?”

विक्रम और डॉक्टर की पत्नी के थे संबंध

बीते दिनों जिम ट्रेनर विक्रम को गोली लगने का मामला सामने आया था, इस मामले में कथित तौर पर आरोपित शूटर को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था, जिसमे आरोपितों ने यह कबूल किया है कि एडवांस के तौर पर जेडीयू नेता व डॉक्टर की पत्नी ने प्रेम संबंध के चलते जिम ट्रेनर विक्रम के लिए सुपारी के तौर पर उन्हें 01 लाख 85 हजार रुपये नकद दिए थे. जांच में यह भी पता चला था कि जिम ट्रेनर विक्रम और डॉक्टर की पत्नी खुशबू के नज़दीकी संबंध थे.

 

यह भी पढ़ें :

Hina Khan remembers Siddharth Shukla : हिना खान ने सिद्धार्थ के साथ हुई अपनी आखिरी बातचीत को किया याद, कहा – मैं नहीं बताउंगी क्या हुई बात

RTI Worker Shot: आरटीआई कार्यकर्ता को अज्ञातों ने दिनदहाड़े गोलियों से भूना, हरसिद्धि प्रखंड कार्यालय के गेट पर दिया घटना को अंजाम