नई दिल्ली. हाल ही में भारतीय सरकार को एक बड़ी कामयाबी मिली. अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को विदेश से खदेड़कर भारत लाने में सफलता मिली. इसी के बाद नजरें अब भारतीय सरकारी बैंकों से करोड़ों रुपए का कर्ज लेकर भागे विजय माल्या पर टिक गईं. दरअसल यूके कोर्ट में विजय माल्या प्रत्यर्पण केस की सुनवाई होनी है. इस सुनवाई का अहम मुद्दा है विजय माल्या को वापस भारत लाना. इसके लिए सीबीआई की एक टीम लंदन पहुंच गई है.

इस सुनवाई के लिए सीबीआई जॉइंट डायरेक्टर एस साई मनोहर की अगुवाई वाली टीम लंदन पहुंची है. सीबीआई टीम की कोशिश है कि मिजय माल्या को प्रत्यर्पण करवा कर भारत वापस लाया जाए. बता दें कि इस मामले में एस साई मनोहर सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना की जगह ले रहे हैं. दरअसल राकेश अस्थाना को सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा के साथ विवाद के बाद सरकार ने छुट्टी पर भेज दिया था और अभी वो इसी विवाद पर चल रहे केस का हिस्सा हैं. इसी कारण उनकी जगह एस साई मनोहर को विदेश भेजा जा रहा है. एस साई मनोहर इस मामले में राकेश अस्थाना की एसआईटी का हिस्सा थे.

कहा जा रहा है कि सीबीआई की इस टीम के साथ प्रवर्तन निदेशालय के दो अधिकारी भी लंदन भेजे गए हैं. बता दें कि विजय माल्या पर मनी लॉन्ड्रिंग, कर्ज की रकम को दूसरे काम के लिए खर्च करना और 9,000 करोड़ रुपए का कर्ज न चुकाने जैसे मामलों में केस चल रहा है. भारत में सीबीआई द्वारा उसके खिलाफ नोटिस जारी करने पर बचने के लिए विजय माल्या लंदन भाग गया.

Vijay Mallya May Lose London home: भगोड़े विजय माल्या को लंदन कोर्ट से झटका, नीलाम हो सकती है आलीशान हवेली

CBI Alok Verma Rakesh Asthana War Reason: सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल निदेशक राकेश अस्थाना का झगड़ा कैसे और कब शुरू हुआ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App