लंदन. 9000 करोड़ रुपये लेकर भारत छोड़ ब्रिटेन में शरण लेने वाले कारोबारी विजय माल्या ने शुक्रवार की सुबह एक के बाद कई ट्वीट किए. इन ट्वीट में विजय माल्य ने भारतीय जांच एजेंसियों पर निशाना साधा है. अपने पहले ट्वीट में विजय माल्या ने लिखा कि डेब्ट रिकवरी ट्रिब्यूनल (DRT) के अधिकारियों ने हाल ही में 13000 करोड़ से अधिक की मेरी संपति अटैच की है. बैक मुझ पर 9000 करोड़ रुपये के नुकसान का दावा कर रहे हैं. बैकों के दावे अभी समीक्षा के अधीन है.

माल्या ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि हर सुबह सो कर उठते ही मुझे डीआरटी रिकवरी अधिकारियों द्वारा संपत्ति जब्त किए जाने की जानकारी मिलती है. अबतक 130000 करोड़ रुपये की मेरी संपति अटैच की जा चुकी है. माल्या ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि भारत में मेरी इतनी संपत्ति को अटैच किए जाने के बाद भी भारतीय बैकों ने इंग्लैंड में अपने वकीलों को मेरे खिलाफ भड़काऊ मुकदमों को आगे बढ़ाने का खुला लाइसेंस दे दिया है. अपने इस ट्वीट में माल्या ने भारतीय बैंकों पर सवाल उठाते हुए लिखा कि जनता के पैसों को कानूनी फीस पर इस तरह खर्च करने के पीछे जिम्मेदार कौन हैं?

अपने अंतिम ट्वीट में विजय माल्या ने लिखा कि इंग्लैंड में बैंकों के वकीलों ने मेरे द्वारा एचएमआरसी कर का बकाया भुगतान करने पर आपत्ति दर्ज कराई है. माल्या ने आगे लिखा कि भारतीय बैंक इंग्लैंड से मेरा पैसा चाहते हैं लेकिन यूके कर के भुगतान पर आपत्ति उठाते है. बताते चले कि विजय माल्या पर भारतीय बैकों का 9000 करोड़ रुपये लेकर भागने का आरोप है. इस मामले में भारतीय एजेंसियां माल्या को वापस लाने की तैयारी में जुटी है.

Nitin Gadkari on Vijay Mallya: नितिन गडकरी बोले- एक बार कर्ज नहीं चुका पाने वाले विजय माल्याजी को चोर कहना गलत

Vijay Mallya Extradition Case: विजय माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई आज करेगा यूके कोर्ट, लंदन पहुंची सीबीआई की टीम 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App