अहमदाबाद. गुजरात के समुद्र तट के करीब कांडला में भारतीय नौसेना के लिए तेल ले जा रहे जहाज में बुधवार शाम भीषण आग लग गई. फिलहाल आग पर काबू पा लिया गया है. लेकिन इस आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड को काफी मशक्कत करनी पड़ी. फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाने के लिए दो बोट्स का इस्तेमाल किया. पानी में आग लगने की बात आपने फिल्मों में ही देखी-सुनी होगी लेकिन यह नजारा बहुत ही भयंकर था. पानी के जहाज में पानी में ही आग लग गई. जब समुद्र में आग लग जाए तो दमकल कर्मी कैसे बुझाते हैं यह जान लीजिए.

मर्चेंट नेवी के जहाज में लगी आग बुझाने के लिए दमकल कर्मियों ने दो बोट्स का इस्तेमाल किया. इन बोट्स में सवार दमकल कर्मियों ने आग लगे हुए जहाज से उचित दूरी बनाकर दोनों तरफ से पानी की बौछार की. क्योंकि मर्चेंट नेवी का जहाज समुद्र में ही था इसलिए उन्हें बाहर से पानी की व्यवस्था करने की जरूरत नहीं पड़ी. दमकल कर्मियों ने सीधे पाइप द्वारा समुद्र से ही पानी लेकर आग लगे जहाज पर पानी की बौछार की. कड़ी मशक्कत के बाद आखिर दमकल कर्मियों ने जहाज में बड़ा नुकसान होने से बचा लिया.

जिस जहाज में आग लगी उसका नाम जिनोसा है जो कि नौसेना के लिए तेल ले जा रहा था. करीब 30,000 टन डीजल से भरे इस टैंकर में आग से बड़ा खतरा हो सकता था. कोस्ट गार्ड की मदद से जहाज में सवार 25 नाविकों को बचा लिया गया है. हादसे में दो नाविकों के घायल होने की भी खबर है. हादसे के बाद अब इस बात की कोशिश की जा रही है कि जहाज से तेल का रिसाव ना हो. दमकल दस्ते की सूझबूझ और तत्परता के कारण बड़ा नुकसान होने से बचा लिया गया है.

एयरलाइंस की मनमानी पर भड़की संसदीय समिति ने कहा, हवाई जहाज के टिकट का अधिकतम किराया तय करे सरकार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App