Vasundhra Raje On Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में जारी सियासत पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. बता दें कि राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चले सत्ता संघर्ष का कांग्रेस ने पायलट को उनके पद से हटाकर एक तरह से समाप्त कर दिया है. लेकिन गहलोत सरकार पर संकट टला नहीं है. ऐसे में अशोक गहलोत सरकार से बचाने के लिए जु़टी कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के वायरल कथित वीडियो टेप को आधार बनाकर पूरे संकट के लिए विपक्षी भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर है.

कांग्रेस ने भाजपा पर खरीद फरोख्त कर गहलोत सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाया है. अब भाजपा की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने चुप्पी तोड़ते हुए मोर्चा संभाला है. राजे ने ट्वीट कर कहा है कि कांग्रेस, भाजपा और भाजपा नेतृत्व पर दोष मढ़ने का प्रयास कर रही है. सरकार के लिए सिर्फ और सिर्फ जनता का हित सर्वोपपरि होना चाहिए. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कभी तो जनता के बारे में सोचिए.

वसुंधरा राजे ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस के आंतरिक कलह का नुकसान आज राजस्थान की जनता को उठाना पड़ रहा है. राजे ने आगे कहा कि कि कोरोना के कारण राज्य में 500 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. टिट्टी किसानों के खेत पर लगातार हमले कर रही है. महिलाओं के खिलाफ अपराध की सीमाएं पार हो चुकी है. प्रदेश में बिजली कटौती चरम पर है. इस समय में भी कांग्रेस बीजेपी पर आरोप लगाने का काम कर रही है.

मालूम हो कि वसुंधरा राजे पर भी गहलोत सरकार को बचाने के लिए अप्रत्यक्ष सहयोग के आरोप लग रहे थे. क्षेत्रफल के लिहाज से देश के सबसे बड़े सूबे में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और चंद रोज गहलोत सरकार में डिप्टी सीएम और सत्ताधारी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रहे सचिन पायलट के बीच शुरू हुए सत्ता संघर्ष में ऑडियो टेप कांड के बाद विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का नाम भी आ गया.

Ram Temple Bhoomi Poojan: राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त होगा भूमि पूजन, PM मोदी हो सकते हैं शामिल

BJP MLA Supports Ashok Gehlot: अशोक गहलोत के बचाव में उतरे वसुंधरा समर्थक विधायक, कहा- सरकार गिराने की साजिश करना गलत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर