वाराणसीः  उत्तर प्रदेश में भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार ने हाल में मुगलसराय जंक्शन का नाम बदल कर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन रखे जाने की घोषणा की थी जिसके बाद एक बार फिर ये स्टेशन चर्चा में आ गया है. लेकिन इस बार ये चर्चा नाम को लेकर नहीं काम को लेकर हो रही है.सरकारी इमारतों, हज हाउस और अन्य संस्थानों के बाद अब मुगलसराय जंक्शन पर भी भगवा रंग चढ़ाया जा रहा है. स्टेशन को नया रंग रूप देने के लिए इसको भगवा रंग में रंगा जा रहा है.

5 अगस्त को मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय किये जाने की औपचारिक घोषणा की जानी है जिसके लिए एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है. इस भव्य कार्यक्रम में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शिरकत करेंगे इसके अलावा रेल मंत्री पीयूष गोयल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, के अलावा बीजेपी के कई केंद्रीय और राज्य मंत्री और नेता बड़ी संख्या में शामिल होंगे.

इतने बड़े स्तर के कार्यक्रम को देखते हुए स्टेशन को नया रूप देने की तैयारियां जोरों पर चल रही है जिसके तहत स्टेशन के मेन गेट और अन्य दीवारों व छतों पर रंग रोगन किया जा रहा है. लेकिन इस किया जाने वाला रंग रोगन पुराने रंग से एकदम अलग भगवा रंग का है. जिसको किए जाने के निर्देश रेलवे अधिकारियों द्वारा दिए गए हैं.

जंक्शन को नया रुप दिए जाने की तैयारियों का को देखने पहुंचे मुगलसराय के डीआरएम पंजन सक्सेना ने अपने अधिकारियों को स्टेशन के नए रूप और रंग रोगन के बारे में कुछ जरूरी निर्देश दिए जिसके भगवा रंग किए जाने पर मीडिया के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इसे सिर्फ भगवा रंग से जोड़कर न देखा जाए

उधर प्रस्तावित नामकरण कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने मुगलसराय डीआरएम पंकज सक्सेना स्वयं मौके पर पहुंचे. उन्होंने रंग रोगन के अलावा अन्य जरूरी निर्देश भी अपने मातहतों को दिए. इस दौरान रंग रोगन के नाम पर भगवाकरण को बढ़ावा देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसे भगवा रंग से जोड़कर न देखें.

ताजमहल विवादः CM ममता बनर्जी का तंज- वो दिन दूर नहीं जब BJP देश का नाम बदलने की कोशिश करेगी

पोस्टर से मिली धमकी, मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदला तो 6 इंच छोटा कर देंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App