उत्तराखंड. इन दिनों प्रकृति अपना रौद्र रूप दिखा रही है, बादल कहर बनकर बरस रहे हैं. ऐसे में उत्तराखंड और केरल में स्थिति सबसे ज्यादा खराब है. एक ओर केरल में जहाँ बाढ़ में 20 से ज्यादा लोगों के मौत हो गई तो वहीं उत्तराखंड में नदियों के जलस्तर ( Heavy rain in Uttarakhand ) बढ़ने से पुल, रेलवे ट्रैक तक बह जा रहे हैं. नैनीताल के रामगढ़ में बादल फटने से भारी तबाही हुई है. अभी तक 34 लोगों के मरने व 5 के लापता होने की खबर है. राहत व बचाव कार्य तेजी से चल रहा है. तीन ध्रुव हेलीकॉप्टर इस काम में लगे हैं.

ऐसा ही मंज़र नैनीताल में देखने को मिल रहा है. नैनीताल में गौला नदी में जलस्तर बढ़ने की वजह से काठगोदाम रेलवे स्टेशन का ट्रैक ही बह बह गया. इतना ही नहीं, नैनीताल के रामगढ़ में बादल फटने की वजह से कई लोग मलबे में दब गए. अब तक 34 लोग इस बारिश की चपेट में आकर अपनी जान गवा चुके हैं. 

सड़क पर नैनीताल झील 

उत्तराखंड में लगातार हो रही भारी बारिश के चलते नदियाँ उफान पर हैं. इसी क्रम में, कोसी, गौला और नंदाकिनी नदी का भी जलस्तर बढ़ गया है, जिसके चलते आस-पास के इलाके पूरी तरह जलमग्न हैं. इतना ही नहीं, रामनगर से रानीखेत के बीच एक रिसॉर्ट में पानी भरने से 200 लोग फंस गए हैं. 

राज्य के डीजीपी अशोक कुमार ने लोगों के सुरक्षित होने का किया दावा

राज्य के डीजीपी अशोक कुमार के मुताबिक करीब 200 लोग लेमन ट्री रिसॉर्ट में फंस गए हैं, उन्हें रेस्क्यू किया जा रहा है. वहां पानी भर गया है. भारी बारिश के चलते उफान पर आई कोसी नदी के पानी के रिसॉर्ट में घुस जाने के बाद फंसे लोगों के सुरक्षित होने का दावा भी किया गया है.

राहत बचाव कार्य जारी

उत्तराखंड में प्राकृतिक आपदा को देखते हुए एनडीआरएफ की 15 टीमें तैनात की गई हैं. ऊधमसिंह नगर में अब तक 300 लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है. अन्य इलाकों में भी राहत और बचाव कर जारी है.

चारधाम यात्रा पर लगाई रोक

उत्तराखंड में भारी बारिश के कहर को देखते हुए चारधाम की यात्रा पर रोक लगा दी गई है. इतना ही नहीं, देहरादून में सभी स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है. भारी बारिश के चलते सड़के लबालब भरी हुई है. ऐसे में, मौसम विभाग ने भूस्खलन की आशंका भी जताई है.

इन राज्यों में अलर्ट जारी

पिछले कई दिनों से देश के अलग-अलग राज्यों में भारी बारिश हो रही है जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य केरल व उत्तराखंड हैं. पहाड़ी राज्य में  नदियां उफान पर हैं, ऐसे में बारिश से सबसे ज़्यादा दिक्कत का सामना आमजन को करना पड़ रहा है. भारी बारिश से कई इलाके जलमग्न है, बारिश के चलते लोग रास्तों पर फसे हुए हैं, लोग अपने काम पर नहीं जा पा रहे हैं. बारिश के चलते आमजन की दिनचर्या प्रभावित हुई है. भारी बारिश के चलते उत्तर भारत और मध्य भारत में रेड अलर्ट भी जारी किया गया है.

यह भी पढ़ें :

Zomato trolling : ट्विटर पर हो रही जोमैटो की ट्रोलिंग, ग्राहक को हिंदी न आने पर नहीं दिया रिफंड

Bullet Train between Varanasi to Howrah: जल्द दौड़ेगी वाराणसी से हावड़ा के बीच दौड़ेगी बुलेट ट्रेन, शुरू हुआ जमीनी सर्वे

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर