सीतापुर. उत्तर प्रदेश के सीतापुर और इसके आस-पास के इलाके में अवारा कुत्तों का आतंक पसरा हुआ है, जिसके कारण लोगों ने घर से निकलना कम कर दिया है. इन अवारा कुत्तों की वजह से अबतक 14 लोगों की मौत हो चुकी हैं. ये मुद्दा राजनीति रूप से भी गरमाता जा रहा है. हाल में ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी मौजूदा सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि जो सरकार लोगों को कुत्तों से नहीं बचा पा रही वह अपराधियों से क्या सुरक्षा करेगी.

वहीं इस मामले पर उत्तर प्रदेश के विकास मंत्री का गैरजिम्मेदाराना बयान आया है. विकास मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि अगर कोई जानवर कहीं घुसा और उसने किसी को काट लिया तो इसमें शासन और सत्ता कहां से बीच में आता है. उन्होंने सत्ता और शासन को इस मामले पर अलग किया. उनका मानना है कि ऐसी चीजों पर सत्ता की कोई जवाबदेही नहीं है. ये बयान उन्होंने वाराणसी के एक कार्यक्रम में दिया. मंत्री के इस बयान की खूब आलोचना की जा रही है.

बता दें उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ स्वयं इस जिले का दौरा कर परिवार से मिल चुके हैं और उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया था कि जरूरी कदम तुरंत उठाए जाएं. लेकिन अभी तक कुत्तों का आंतक थमने का नाम नहीं ले रहा है. इतना ही नहीं यूपी में कुत्तों के कहर को देखते हुए एक कुत्ता समिति का गठन भी किया गया था. महीने भर के अंदर कुत्तों के काटने की वजह से 14 लोगों की मौत हो चुकी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे उद्घाटन, दिल्ली-मेरठ हाईवे पर पीएम का रोड शो

मोदी सरकार के 4 साल, चौकीदार फ़ेल, लूटेरे देश से फ़रार : तेजस्वी यादव

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App