नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में संविधान संसोधन बिल पेश कर दिया. केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने यह बिल लोकसभा के पटल पर रखा. बता दे इस बिल पर पहले दोपहर 2 बजे चर्चा  होनी थी लेकिन अब इस बिल पर शाम 5 बजे चर्चा शुरू हुई. सोमवार को मोदी कैबिनेट ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा की थी. केंद्र सरकार के इस फैसले का बसपा और कांग्रेस ने समर्थन किया है. वहीं हमेशा पीएम मोदी पर हमलावर रहने वाले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भी बिल के समर्थन में खड़ी दिखी. लोकसभा 2019 चुनावों के लिए अब ज्यादा वक्त नहीं बचा है, लिहाजा कोई भी राजनीतिक पार्टी सवर्णों की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहेगी.

सोमवार को मोदी सरकार द्वारा दिए इस फैसले की हर तरफ चर्चा का हो रही हैं बता दे कि काग्रेंस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने केंद्र सरकार के इस फैसले को लेकर कहा है कि हम सवर्णों को दिए गए आरक्षण के लिए केंद्र सरकार का समर्थन करते लेकिन हम यह भी पूछना चाहते कि आखिरकार मोदी सरकार नौकरियां कब देगी.

वहीं इसके दूसरी ओर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि वह लोकसभा सदन में संविधान संशोधन बिल का समर्थन करेगी लेकिन मोदी सरकार का यह फैसला लोकसभा चुनाव के लिए एक रणनीति है. अगर केंद्र सरकार को यह फैसला लेना ही था तो अपने कार्यकाल को खत्म होने से पहले लेना चाहिए था. आपको बता दे कि इससे पहले सवर्ण वर्ग के लोगों ने आरक्षण के लिए बीते साल कई आंदोलन किए लेकिन केंद्र सरकार ने तब कोई फैसला नहीं सुनाया. ऐसे में लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का यह फैसला वाकई चौंकाने वाला है.

यहां पढ़ें Upper Caste Reservation Bill Highlights:

Highlights

सवर्ण आरक्षण बिल के पक्ष में पड़े 323 वोट

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: 124वां संविधान संशोधन बिल वोटिंग के बाद लोकसभा से पास. बिल के समर्थन में 323 वोट पड़े जबकि विरोध में 3 वोट पड़े. वोटिंग के दौरान सदन में कुल 326 सांसद मौजूद थे.

सवर्ण आरक्षण बिल पर लोकसभा में वोटिंग

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: लोकसभा में सवर्ण आरक्षण बिल पर वोटिंग जारी, दो संशोधन पूर्ण बहुमत के साथ पास हो गए हैं. बिल पास होने के लिए दो तिहाई बहुमत होना जरूरी है.

शशि थरूर ने बिल की टाइमिंग पर उठाए सवाल

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने सदन को टोकते हुए कहा कि क्या कोई बिल कभी भी संसद में पेश किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि जब सरकार चाहे तब कोई भी बिल बिना किसी नोटिस के संसद में ला सकती है. हालांकि लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने शशि थरूर की बातों को टाल दिया.

बिल के समर्थन में शायराना हुए रामदास आठवले

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: आज मुझे बहुत अच्छा हो रहा है फील, क्योंकि लोकसभा में पास हो रहा है ये बिल, नरेन्द्र मोदी जी की मजबूत हो रही है हील, क्योंकि राफेल में नहीं है कोई गलत डील, नरेन्द्र मोदी जी का था अच्छा लक्षण, इसलिए मिल रहा है गरीबों को आरक्षण: रामदास आठवले

ये बिल संविधान के साथ धोखा है- असदुद्दीन ओवैसी

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: हैदराबाद से एआईएमआईएम के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बिल का विरोध करते हुए कहा कि ये बिल बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का अपमान है. उन्होंने कहा कि आप आज चाहे दिवाली या जो भी मनाना चाहें मना लें लेकिन अदालत में ये बिल कभी पास नहीं होगा.

सारे नियमों को ताक पर रखकर पेश किया गया बिल

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: आरएसपी पार्टी के सांसद एन के प्रेमचंद्रन ने कहा कि हम बिल का तो समर्थन करते हैं लेकिन सरकार को सत्ता में आने के साढ़े चार साल बाद आर्थिक तौर पर कमजोर वर्ग का ख्याल क्यों आ रहा है? उन्होंने कहा कि अगर ये बिल लोकसभा में दो तिहाई बहुमत से पास हो भी जाता है तो भी ये बिल राज्यसभा जाएगा जहां इसे पारित कराना जरूरी होगा. उन्होंने ये भी कहा कि सारे नियमों को ताक पर रखखर ये बिल पेश किया गया है.

कांग्रेस ने किया बिल का समर्थन पर सरकार की मंशा पर उठाए सवाल

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि हम बिल का समर्थन कर रहे हैं लेकिन इतना अहम बिल सरकार ने अंतिम सत्र के अंतिम दिन क्यों पेश किया ये संदेहास्पद है. उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकार सामान्य वर्ग को आरक्षण देने का काम पहले ही कर चुकी है.

आरक्षण से सरकारी नौकरी नहीं मिलती- कुशवाहा

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के सांसद उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आरक्षण से नौकरी नहीं मिलती है और जैसे ही यह बात लोगों को समझ आ जाएगी वैसे ही आरक्षण पाने वाले सवर्ण भी सरकार के खिलाफ हो जाएंगे. कुशवाहा ने कहा कि आरक्षण आर्थिक समृद्धि का उपाय नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए कि सरकारी विद्यालयों में पढ़े बच्चों को आरक्षण में प्राथमिकता दें.

आम आदमी पार्टी ने बीजेपी को बताया भारतीय जुमला पार्टी

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: आम आदमी पार्टी ने सवर्ण बिल के पीछे बीजेपी की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर बीजेपी वालों के दिल में गरीबों का इतना ख्याल था तो ये बिल पहले क्यों नहीं आया? उन्होंने बीजेपी को भारतीय जुमला पार्टी करार देते हुए कहा कि ये चुनाव स्टंट है. उन्होंने कहा कि आने वाले समय में पीएम मोदी चुनावी रैलियों में इस बिल का क्रेडिट लेते दिखेंगे.

RJD ने किया सवर्ण आरक्षण बिल का विरोध, बोली- SC, ST और OBC को मिले 85 फीसदी आरक्षण

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल के सांसद जय प्रकाश यादव ने सवर्ण आरक्षण बिल का विरोध करते हुए कहा कि सवर्ण आरक्षण बिल धोखा है. उन्होंने कहा कि एससी, एसटी और ओबीसी को मिलने वाले 49.5 फीसदी आरक्षण को बढ़ाकर 85 फीसदी किया जाए. उन्होंने नारा दोहराते हुए कहा कि जितनी जिसकी हिस्सेदारी, उसको उतनी भागेदारी

RJD ने किया सवर्ण आरक्षण बिल का विरोध, बोली- SC, ST और OBC को मिले 85 फीसदी आरक्षण

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल के सांसद जय प्रकाश यादव ने सवर्ण आरक्षण बिल का विरोध करते हुए कहा कि सवर्ण आरक्षण बिल धोखा है. उन्होंने कहा कि एससी, एसटी और ओबीसी को मिलने वाले 49.5 फीसदी आरक्षण को बढ़ाकर 85 फीसदी किया जाए. उन्होंने नारा दोहराते हुए कहा कि जितनी जिसकी हिस्सेदारी, उसको उतनी भागेदारी

यूपी में सवर्णों के घर गिर गए हैं, जमीन बिक गई है- महेंद्र नाथ पांडे

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: यूपी बीजेपी के अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने कहा कि यूपी में सवर्णों के घर गिर चुके हैं और उनके पास अब जमीनें भी नहीं बची हैं. उन्होंने कहा कि ये बिल लाकर पीएम मोदी ने साहसिक कदम उठाया है.

नौकरियां कम हो गई तो आरक्षण कैसे काम करेगा?- सुप्रिया सुले

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने कहा कि जहां चाह होती है वहां राह होती है. सुप्रिया सुले ने कहा कि उनकी पार्टी बिल का समर्थन करती है. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि अगर नौकरियां कम हो जाती हैं तो आरक्षण कैसे काम करेगा?

धर्मेंद्र यादव बोले- पिछड़े मंत्रियों की संख्या बराबर करो

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन सवर्ण आरक्षण पर चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी के नेता धर्मेंद्र यादव ने कहा कि कैबिनेट में पिछड़े मंत्रियों की संख्या बराबर होनी चाहिए लिहाजा पिछड़े मंत्रियों की संख्या बराबर की जाए

बीजेडी ने किया बिल का समर्थन

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: बीजू जनता दल ने बिल का समर्थन किया है. भारतरूहारी महताब ने कहा कि समय समय पर आर्थिक समीक्षा की जानी चाहिए. बीजू जनता दल के नेताओं ने एक साथ मिलकर कहा कि हमारी पार्टी बिल का समर्थन करती है. उन्होंने कहा कि हमारे नेता बीजू पटनायक ने एक बार कहा था कि गरीबों की कोई जाति नहीं होती.

1992 में कोर्ट ने जातिगत आधार पर आरक्षण की सीमा तय की थी- जेटली

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि 1992 में सुप्रीम कोर्ट ने जो 50 फीसदी आरक्षण की सीमा तय की थी वो जाति आधारित थी. उन्होंने कहा कि अदालत को ये सीमा इसलिए तय करनी पड़ी थी क्योंकि संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आरक्षण की श्रेणी में ला सके.

सवर्ण आरक्षण को संविधान की 9वीं अनुसूची में डाला जाए- राम विलास पासवान

Upper Caste Reservation Bill LIVE Updates: केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि निजी क्षेत्रों में भी आरक्षण की सुविधा होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि आरक्षण को संविधान की 9वीं अनुसूची में डालना चाहिए ताकि उसपर कोई कानूनी अड़चन ना आए. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी इस प्रस्ताव का समर्थन करती है.

सवर्ण आरक्षण बिल पर अमित शाह ने किया ट्वीट

भाजपा के प्रमुख अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट करके कहा है कि आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को 10% आरक्षण देना मोदी सरकार का एक ऐतिहासिक फैसला है. साथ ही यह हमारे देश के बड़े वर्ग के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने की दिशा में एक बड़ा कदम है.

अरूण जेटली ने कहा समर्थन कर रहे हैं तो खुले दिल से करें

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि संसद में पास होकर आरक्षण का 50 प्रतिशत दायरा बढ़ सकता है. आर्थिक रूप से पिछड़ों पर लागू नहीं होगा. साथ ही कहा कि पिछली सरकारों ने नहीं की पहले कोशिश. समर्थन से कोई शिकायत नहीं अगर समर्थन कर रहे हैं तो खुले दिल से करें. बिल पर शिकायत करके समर्थन न करें.

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने सवर्ण आरक्षण बिल पर दिया बयान

लोकसभा में सवर्ण आरक्षण बिल पर चर्चा जारी है. ऐसे में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि इस आरक्षण बिल के तहत बराबरी लाने का प्रयास है. साथ ही कहा कि सरकार से सहायता पाने ओर न पाने वाले संस्थानों में लागू होगा आरक्षण. वहीं विपक्ष पर तंज कसते हुए जेटली ने कहा कि आरक्षण पर जुमले की बात विपक्ष ने ही कही थी. इसके अलावा उन्होंने कहा कि अनारक्षित गरीबों को आरक्षण देने की कोशिश.

SC-ST OBC आरक्षण के बारे में बोले थावरचंद गहलोत

मोदी सरकार के मंत्री थावरचंद गहलोत ने सवर्ण आरक्षण बिल बारे में बताया कि यह आरक्षण सामान्य वर्ग के हर धर्म के लोगों के लिए है. साथ ही उन्होंने कहा कि SC-ST OBC के आरक्षण से कोई छेड़छाड़ नहीं कि जायेगी. वहीं यह आरक्षण समाज में समानता को बढ़ायेगा.

केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने सवर्ण आरक्षण बिल पर दिया बयान

लोकसभा में सवर्ण आरक्षण बिल पर वहस शुरू हो गयी है. ऐसे में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने सवर्ण आरक्षण बिल के बारे में बताया कि आरक्षण बिल से एक बड़े वर्ग का लाभ मिलेगा. निजी शिक्षा संस्थाओं पर 10% आरक्षण लागू होगा. साथ ही सरकारी नौकरी में भी 10% आरक्षण मिलेगा.

संसद में पेश हुआ 124वां संविधान संशोधन विधेयक

केंद्रीय कैबिनेट की ओर से लोकसभा सदन में संविधान संशोधन बिल पेश किया गया है. आपको बता दे कि यह 124वां संविधान संशोधन विधेयक है जिसे लोकसभा सदन में पेश किया किया गया है. इसके साथ ही यह बिल 3 पेज का जो संसद में मौजूद सांसदों को पढ़ने के लिए दिया गया है. इससे पहले 123 बार संविधान संशोधन विधेयक को संसद में पेश किया जा चुका है.

आरक्षण बिल पर उमर अब्दुला ने उठाए सावल

जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुला ने मोदी सरकार के गरीब सवर्णों को दिए गए 10% आरक्षण पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में हार के बाद ही गरीबो सवर्णों को आरक्षण देने की याद क्यों आयी. साथ ही सत्र के आखिरी दिन घोषणा क्यों की, चार साल में पहले क्यों नहीं किया यह फैसला.

डीएमके पार्टी कर रही है आरक्षण बिल का विरोध

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) पार्टी ने मोदी सरकार के सरकार के गरीब तबके के सवर्णों को दिए गए आरक्षण का विरोध कर रही है. पार्टी अध्यक्ष स्टालिन ने तमिलनाडु विधानसभा में कहा कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को इस फैसले के लिए विधेयक लाना होगा. बता दे केंद्रीय कैबिनेट ने सोमवार को गरीब सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण की मंजूरी दे दी है.

आरक्षण बिल पर शाम 5 बजे होगी बहस

मंगलवार को लोकसभा में पेश किए संविधान संशोधन बिल पर चर्चा होनी है. ऐसे में केंद्र सरकार के गरीबों सवर्णोॆं को आरक्षण देने के फैसले को हरी झंडी मिलने की आशंका है. फिलहाल सदन में नागरिकता संशोधन अधिनियम बिल पर बहस चल रही है. इसके बाद शाम 5 बजे से आरक्षण बिल पर सुनवाई शुरू की जायेगी.

बिल पास कराने के लिए 67% सांसदों का चाहिए समर्थन

गरीब तबके के सवर्णों के आरक्षण हेतु लोकसभा में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत की ओर से लोकसभा में संविधान संशोधन बिल पेश हो गया है. ऐसे में इस बिल को पास कराने के लिए केंद्र सरकार को सदन में 67 प्रतिशत सांसदों के समर्थन की जरूरत है. अगर मोदी सरकार को इन सांसदों को समर्थन मिलता है तो यह सवर्ण आरक्षण बिल पास हो सकता है.

रामगोपाल यादव का सवर्ण आरक्षण पर बयान

संविधान संशोधन बिल को केंद्र सरकार की ओर से लोकसभा में पेश कर दिया गया है. ऐसे में केंद्र सरकार के इस फैसले की हर तरफ चर्चा हो रही है. वहीं गरीब सवर्ण को आरक्षण पर समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने कहा है कि ओबीसी के लिए भी उनकी आबादी के हिसाब से आरक्षण होना चाहिए था. केंद्र सरकार आरक्षण की लिमिट 50 प्रतिशत को पार कर रही है. इसके अलावा रामगोपाल ने कहा कि हम इस फैसले का स्वागत करते हैं.

सवर्ण आरक्षण बिल पर विपक्ष एकजुट

लोकसभा में संविधान संसोधन बिल पेश हो चुका है. ऐसे में इस बिल में गरीब सवर्णों को दिए गए आरक्षण पर जोर दिया जायेगा. कई विपक्षी दल इसके समर्थन में आ गये हैं. इसके साथ सवर्ण आरक्षण बिल के लिए लोकसभा में बसपा, काग्रेंस, आम आदमी पार्टी और एनसीपी का समर्थन मिलना तय है गया है.

सपा पार्टी ने आरक्षण प्रतिशत को बढ़ाने की मांग

केंद्र सरकार ने गरीब सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की है. ऐसे में समाजवादी पार्टी ने यह मांग की है कि गरीब सवर्णों को दिए गए आरक्षण को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 54 प्रतिशत कर देना चाहिए.

बिल पर चर्चा का समय बदला

लोकसभा में पेश किए गए संविधान संशोधन बिल पर चर्चा के समय में बदलाव किया गया है. बता दे कि पहले इस बिल पर चर्चा दोपहर 2 बजे होनी थी लेकिन अब इस संविधान संशोधन बिल पर शाम 5 बजे चर्चा होगी.

समाजवादी पार्टी कर रही संविधान संशोधन बिल का विरोध

मंगलवार को लोकसभा में संविधान संशोधान बिल को पेश किया गया है.जिस पर सामाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल ने कहा है कि लोकसभा में संविधान संशोधन बिल को पेश करने का तरीका गलत है.

लोकसभा में पेश हुआ संविधान संसोधन बिल

केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने लोकसभा में संविधान संसोधन बिल पेश किया. गरीब सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का फैसला सोमवार को मोदी कैबिनेट ने किया था. साथ ही मोदी सरकार के इस फैसले को चुनावी दांवपेच बताया जा रहा है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App