नई दिल्ली. अब तो उत्तर प्रदेश पुलिस इतनी बेलगाम हो गई है कि आम इंसान को बीच रास्ते से उठाकर ही पीट रही है. जहां प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ हर रोज सूबे में नए नियम लेकर सुरक्षा व्यवस्था का बखान करते हैं वहीं अब उनके प्रदेश की पुलिस बेलगाम होती हुई दिख रही है. ताजा मामला है नोएडा का है जहां पर एक पत्रकार की पुलिस ने बेरहमी से पिटाई की है और रात भर उसे थाने में बंद करके रखा है. पत्रकार की बस इतनी गलती थी कि उसने पुलिस वाले को गलत साइड से तेजी से बाइक चलाने और हेलमेट न पहनने पर टोक दिया था. इस बात को सुनकर पुलिस वालों ने पत्रकार पर लात घूंसे और लाठियां बरसाना शुरू कर दी थीं.

यह है पूरा मामला

दिल्ली निवासी राहुल काद्यान एक नेशनल न्यूज चैनल इंडिया न्यूज में पत्रकार हैं वह 19 सितंबर की रात सेक्टर 18 में अपने मित्र राजीव श्रीवास्तव के साथ थे. वह एक पार्टी से आकर सेक्टर-18 मेट्रो स्टेशन के नीचे कैब का इंतजार कर रहे थे और जब वह खड़े थे तो गलत साइड से आ रहे बाइक सवार पुलिसकर्मियों की बाइक का हैंडल उनसे टकरा गया. इसके बाद जब उन्होंने पुलिस से कहा कि धीरे चलाइए तो पुलिस ने उनसे साफ कहा -ज्यादा चौधरी मत बन तुझे यहीं बताएं. इस बात पर जब राहुल ने कहा कि में पत्रकार हूं तो पुलिसवाले गए और फिर अपने साथ एक दो पुलिसकर्मी लाए. इसके बाद वह राहुल और उसके दोस्त को सडक पर गिरा-गिराकर पीटने लगे.

इसके बाद पुलिस वालों ने पुलिस चौकी पर ले जाकर उनकी पिटाई की जब राहुल ने अपने परिजनों को कॉल करने के लिए अपनी जेब से फॉन निकाला तो डंडा मारकर उसका फोन भी तोड़ दिया. इसके बाद पुलिसकर्मियों ने दोनों को रातभर थाने में रखा और शुक्रवार को सुबह इन दोनों को छोड़ दिया गया. राहुल का दोस्त गंभीर रूप से घायल है और वह जेपी अस्पताल में भर्ती है. हालांकि पीडित की शिकायत पर एसएसपी वैभव कृष्ण ने इस मामले में सीओ को जांच का आदेश दिया है.

राहुल द्वारा पुलिस को की गई शिकायत

थाना प्रभारी,

नोएडा सेक्टर- 20

महोदय कल रात तकरीबन 12:00 बजे के आस पास मैं (राहुल काद्यान) और मेरा दोस्त (राजीव श्रीवास्तव) हम लोग सेक्टर 18 मेट्रो स्टेशन के नीचे घर जाने के लिए कैब का इंतजार कर रहे थे…तभी अचानक 2 पुलिसकर्मी रॉन्ग साइड अपनी बाइक पर बिना हेलमेट लगाए आए…मुझे लगा उनकी हम से टक्कर हो सकती है…तो मैने उन्हें कहा ”भाई साहब देख कर चलाईए…टक्कर मारेंगे क्या ?”…उसके बाद पुलिसकर्मियों ने गाली-गलौच शुरू कर दी और फिर मारपीट करने लगे….और थोड़ी देर बाद कुछ और पुलिसकर्मी आए और उन्होने भी मेरे और मेरे दोस्त के साथ मारपीट की जिसमें मुझे कुछ जगहों पर गंभीर चोट आई है। वहीं मेरे दोस्त राजीव को मारपीट के बाद JP अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा…साथ ही मारपीट के बाद मुझे पूरी रात पहले सेक्टर 18 की चौकी में ले जाकर वहां भी मारपीट की…. तो उसके बाद सेक्टर 20 की चौकी के अंदर ले जाकर भी हाथापाई शुरू कर दी…पुलिसकर्मियों ने जब मारपीट की तो मेरा मोबाइल फोन भी टूट गया….जिसके कारण मैं घरवालों को इस घटना के बारे में नहीं बता पाया और पूरी रात मुझे पुलिस चौकी में बिठाया गया…. इस घटना के दौरान मेरे गले की चैन और मेरा पर्स भी गायब है… जो अभी तक मुझे नहीं मिल पाया है। मैं अपने साथ हुई मारपीट की एफआईआर दर्ज कराने की कोशिश कर रहा हूं लेकिन पुलिस ने कोई एफआईआर दर्ज नहीं की। मेरा आपसे ये विनम्र निवेदन की आप पूरा मामला अपने संज्ञान में ले और जिन पुलिसर्मियों ने मेरे और मेरे दोस्त के साथ मारपीट की है….उनपर उचित कार्रवाई करें….

BJP Leader Azad Singh Assaults Wife: दिल्ली के बीजेपी नेता आजाद सिंह ने पार्टी कार्यालय में पूर्व मेयर पत्नी को पीटा

UP Police Thrashing Young Man Viral Video:यूपी के सिद्धार्थनगर में मामूली बात पर पुलिस ने बच्चे के सामने युवक को लात-घूंसों से पीटा, वीडियो वायरल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App