लखनऊ: आज रात दस बजे से यूपी में 55 घंटे का लॉकडाउन शुरू हो चुका है. ये लॉकडाउन 13 जुलाई सुबह 5 बजे तक जारी रहेगा. इस दौरान सभी जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी चीजों पर पाबंदी जारी रहेगी. यूपी में इन दिनों कोरोना के अलावा इंसेफेलाइटिस, मलेरिया, डेंगू और कालाजार जैसे रोग भी फैले हुए हैं जिसको लेकर योगी सरकार ने एहतियातन तीन दिन के लॉकडाउन का फैसला किया है. यूपी के मुख्य सचिव आरके तिवारी के जारी आदेश के मुताबिक इस दौरान सभी कार्यालय, सभी शहरी व ग्रामीण हाट-बाजार, गल्ला मंडी और सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. यही नहीं इन तीन दिनों में रोडवेज बस सेवा प्रदेश के अंदर प्रतिबंधित रहेगी.

हालांकि इस दौरान सभी जरूरी सेवाएं जैसे चिकित्सा और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति पहले की ही तरह खुली रहेगी. इन सेवाओं में काम करने वाले व्यक्तियों, कोरोना वारियर, स्वच्छता कर्मियों व डोर टू डोर सप्लाई से जुड़े व्यक्तियों के आने-जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा. नए आदेश के मुताबिक रेलवे का आवागमन पहले की तरह जारी रहेगा. ट्रेनों से आने वाले व्यक्तियों के लिए बसों की व्यवस्था उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम करेगा. सभी अंतरराष्ट्रीय व घरेलू हवाई सेवाएं यथावत जारी रहेंगी. हवाई अड्डों पर आने वाले यात्रियों के लिए आवागमन पर कोई रोक नहीं होगी.

नए आदेश के मुताबिक मालवाहन वाहनों के आने-जाने पर कोई रोक नहीं होगी. राष्ट्रीय व राज्यमार्गों पर परिवहन पहले की तरह जारी रहेगा. इनके किनारे स्थित पेट्रोल पंप व ढाबे पूर्व की तरह खुले रहेंगे. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कोविड-19 के मद्देनज़र घर-घर शुरू किया गया व्यापक स्क्रीनिंग अभियान जारी रहेगा और इससे जुड़े हुए सभी कार्यालय और संस्थान खुले रहेंगे. नए निर्देश के मुताबिक जरूरी सेवाओं से जुड़े अधिकारियों-कर्मचारियों का पहचान पत्र ही ड्यूटी पास माना जाएगा और उनकी आ‌वाजाही पर कोई रोक नहीं होगी.

Vikas Dubey Encounter: एनकाउंटर से पहले क्यों बदली गई थी विकास दुबे की गाड़ी, किसनी चलाई थी पहली गोली?

Harsh Vardhan on Corona: देश में आठ लाख के करीब पहुंची कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या, स्वास्थ्य मंत्री बोले- कोई टेंशन की बात नहीं

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर