नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे अपने एक बयान की वजह से सुर्खियों में आ गए हैं. नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा है कि गौमूत्र यानी गाय के मूत्र से कई तरह की गंभीर बीमारियों का इलाज होता है. गौमूत्र से कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां भी ठीक हो जाती हैं. भारत सरकार का आयुष मंत्रालय गौमूत्र से दवाइयां तैयार करने पर काम कर रहा है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बताया कि मोदी सरकार गाय के संरक्षण के लिए और गौसंवर्धन के लिए प्रतिबद्ध है.

अश्विनी चौबे शनिवार को तमिलनाडु के कोयंबटूर दौरे पर रहे. वहां उन्होंने वार अगेंस्ट कैंसर यानी कैंसर के खिलाफ मुहिम की शुरुआत की. इस दौरान उन्होंने कैंसर से निपटने के लिए सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के बारे में भी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना के तहत आर्थिक रूप से पिछड़े परिवारों को कैंसर जैसी गंभीर और खर्चीली बीमारियों के इलाज के लिए मदद मिल रही है. देशभर में बड़ी संख्या में लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं.

स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने अपने एक बयान में गौमूत्र के फायदे बताए. उन्होंने कहा कि गाय के मूत्र से कई प्रकार की दवाइयां तैयार होती हैं. कैंसर जैसी असाध्य बीमारी के लिए भी गौमूत्र फायदेमंद होता है. भारत सरकार ने भी गौसंवर्धन के लिए योजना बनाई है. इस पर आयुष मंत्रालय भी गंभीरता से काम कर रहा है.

अश्विनी चौबे बिहार से बीजेपी सांसद हैं. इससे पहले वे बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं. इस साल जून में जब बिहार के मुजफ्फरपुर समेत अन्य जिलों में इंसेफेलाइटिस बीमारी से बच्चों की मौत हो रही थी तो अश्विनी चौबे विवादों में आए थे. उन्होंने स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे पर इंसेफेलाइटिस के मुद्दे पर हो रही अहम बैठक के दौरान सोने का आरोप लगा था. हालांकि बाद में उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि वे मनन चिंतन कर रहे थे.

Akash Chaurasia Organic Farming Technique: सागर वाले आकाश चौरसिया 3 एकड़ खेत में विषमुक्त गौ आधारित मल्टीलेयर जैविक खेती तकनीक से सालाना 15 लाख कमा रहे हैं

उत्तराखंडः त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार में मंत्री रेखा आर्या बोलीं- गाय ऑक्सीजन लेने और छोड़ने वाला इकलौता पशु

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App