नई दिल्लीः वित्त मंत्री अरुण जेटली गुरुवार को बजट 2018-19 पेश किया. बजट में राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति से लेकर सांसदों का वेतन बढ़ाने का फैसला किया है. मोदी सरकार में राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख होगा वहीं उप राष्ट्रपति का वेतन 4 लाख और सांसदों का वेतन हर पांच साल में बढ़ाया जाएगा. सांसदों की सैलरी महंगाई के हिसाब से बढ़ाई जाएगी. अपने आखिरी बजट में मोदी सरकार ने सबको राहत देने की कोशिश की है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऐलान किया कि राष्ट्रपति से लेकर सांसदों तक सबका वेतन बढ़ाया जाएगा. साथ ही बजट में कई सहूलियतें दी गई हैं बजट में महिलाओं और किसानों का खासा ध्यान रखा गया है. मोदी सरकार ने उज्जवला योजना के तहत 8 करोड़ महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन बांटे जाएंगे. वहीं किसानों को राहत दी गई. जिससे कृषि के क्षेत्र में फायदा होगा. वहीं अरुण जेटली ने बिटक्वाइन को लेकर भी बड़ा ऐलान किया है.

वित्त मंत्री ने रेलवे के लिए बड़ा ऐलानव किया है. उन्होंने घोषणा की कि रेलवे के क्षेत्र में 1 लाख 48 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. वहीं 600 स्टेशनों को आधुनिक बनाया जाएगा. मोदी सरकार ट्रेनों में वाई-फाई की सुविधा देगी वहीं सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे. वहीं जेटली ने कहा कि 70 लाख नई नौकरियां पैदा करेंगे वहीं उन्होंने कहा 2022 तक सबके साथ घर होगा. 

यह भी पढ़ें- बजट 2018: वित्त मंत्री अरुण जेटली का ऐलान, 70 लाख नई नौकरियां पैदा करेंगे, 2022 तक सबके पास होगा घर

Union Budget 2018 India: मुंबई लोकल का दायरा बढ़ेगा, रेलवे में सुधार पर खर्च होंगे 1 लाख 48 हजार करोड़

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर