नई दिल्ली. संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर मुद्दे पर अपनी नीति साफ कर दी है. यूएन महासचिव के प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीर मसले को भारत और पाकिस्तान आपस में बातचीत कर ही सुलझाए. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र में शिकायत की थी. पाक ने इस मामले पर यूएन से दखल देने की मांग की थी. हालांकि यूएन ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान की मध्यस्थता की मांग को ठुकरा दिया है.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि कश्मीर पर मध्यस्थता के मामले पर उनका पक्ष पहले जैसा ही है. उन्होंने भारत और पाकिस्तान दोनों देशों की सरकारों से इस बारे में बात की है. जी-7 समिट के दौरान एंटोनियो गुटरेस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच चर्चा हुई थी. साथ ही पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से भी उनकी मुलाकात हुई है.

पाकिस्तान को कश्मीर मसले को लेकर अंतरराष्ट्रीय मंच पर बुरी तरह खानी पड़ रही है. भारत को कश्मीर मुद्दे पर घेरने के लिए पाक पूरी तरह अलग-थलग पड़ता दिखाई दे रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दोनों देशों के बीच मध्यस्थता करने से भी इनकार कर दिया था. उन्होंने भी कहा था कि यह द्विपक्षीय मसला है और भारत-पाक इसे आपस में बातचीत कर ही सुलझा सकते हैं. साथ ही अरब के मुस्लिम राष्ट्र भी इस पर पाकिस्तान का साथ नहीं दे रहे हैं.

गौरतलब है कि मंगलवार को जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचसीआर) के सत्र में भी भारत और पाकिस्तान के प्रतिनिधि आमने-सामने हुए थे. पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने यूएनएचसीआर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में लोग डर के माहौल में जी रहे हैं. उन्होंने वहां मानवाधिकारों के हनन का आरोप लगाया.

इसके जवाब में भारतीय प्रतिनिधिमंडल ने साफ कर दिया कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाना भारत का आंतरिक मसला है, इसमें कोई भी देश दखलअंदाजी करे तो सही नहीं होगा. भारत ने पाकिस्तान के सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि कश्मीर मेें विकास और शांति का माहौल लाने के लिए यह व्यवस्था की गई है. एक ऐसा देश जो आतंकवाद और आतंकियों को बरसों से पनाह देते आ रहा है वो यदि ऐसे मनगढ़ंत आरोप लगाए, यह उचित नहीं है. 

अब पाकिस्तान और भारत के प्रधानमंत्री संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र में आमने-सामने होंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाक पीएम इमरान खान यूएन के वार्षिक सत्र को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री मोदी 27 सितंबर को यूएन को संबोधित करेंगे. इस दौरान दोनों देशों के बीच एक बार फिर कश्मीर मुद्दे पर आमना-सामना होने के कयास लगाए जा रहे हैं. 

Pak PM Imran Khan Rally In POK Muzaffarabad: UNHRC में लताड़ के बाद भी नहीं सुधरा पाकिस्तान, पीएम इमरान खान कश्मीरियों के समर्थन में पीओके मुजफ्फराबाद में 13 सितंबर को करेंगे रैली

Harin Fernando On Fawad Hussain Chaudhry: श्रीलंका के खेल मंत्री हारिन फर्नांडो ने फवाद हुसैन चौधरी की लगाई लताड़, कहा- पाकिस्तान दौरे को लेकर हमारे क्रिकेटर्स पर भारत का दवाब नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App