यूएन:  संयुक्त राष्ट्र संघ में मानवाधिकार परिषद के चुनाव में भारत ने सभी उम्मीदवारों से अधिक वोट हासील कर शानदार जीत दर्ज की. भारत को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) का सदस्य चुना गया है. एशिया-प्रशांत क्षेत्र से एनएचआरसी के सदस्य के रूप में भारत ने मतों के लिहाज से बड़ी जीत दर्ज की. इसके बाद अब भारत 1 जनवरी, 2019 से तीन साल की अवधि के लिए शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष मानवाधिकार परिषद का सदस्य होगा.

भारत को एशिया-प्रशांत श्रेणी में 188 वोट हासिल हुए. बता दें कि परिषद के सदस्य गुप्त मतदान द्वारा पूर्ण बहुमत के आधार पर चुने जाते हैं. परिषद में चुने जाने के लिए किसी भी देश को कम से कम 97 वोटों की आवश्यकता पड़ती है.

गौरतलब है कि एशिया-प्रशांत क्षेत्र से मानवाधिकार परिषद में कुल 5 सीटें हैं, इस सीटों के लिए भारत के अलावा बहरीन, बांग्लादेश, फिजी और फिलीपीन ने अपना नामांकन दाखिल किया था. नए सदस्यों का कार्यकाल एक जनवरी, 2019 से शुरू होकर 3 वर्ष तक चलेगा. भारत तीसरी बार संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का सदस्य चुना गया है. इससे पहले भारत 2011 और 2014 में मानवाधिकार परिषद का सदस्य रह चुका है.

भारत की इस जीत पर संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी राजदूत सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि वोटिंग का परिणाम अच्छा रहा. समर्थन देने के लिए यूएन के हमारे सभी मित्रों का धन्यवाद, भारत ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में सर्वाधिक वोट पाकर जीत हासिल की.

UN की महासभा में बेबी डेब्यू, 3 माह की बच्ची को गोद में लिए बैठक में पहुंचीं न्यूजीलैंड की पीएम जसिंदा आर्दर्न

आतंकी बुरहान वानी को हीरो बताने वाले पोस्टल स्टांप हटाने के लिए भारत ने पाकिस्तान पर बनाया राजनयिक दबाव

One response to “India wins UN Human Rights Council Election: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के चुनाव में जीता भारत”

  1. It’s great achievement for india . It’s time to celibret. Indian people’s need to support our country without any politics

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App