नई दिल्ली. क्लाउड-आधारित सरकारी प्लेटफॉर्म डिजी लॉकर उपयोगकर्ताओं को अपने दस्तावेजों के इलेक्ट्रॉनिक संस्करण जैसे आधार कार्ड, पैन (स्थायी खाता संख्या) कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस और ड्राइविंग लाइसेंस जैसे दस्तावेज अपलोड सुरक्षित रखने की सुविधा देता है. ये डिजिटल स्टोरेज सरकारी विभागों के प्रशासनिक ओवरहेड को कम करके कागज के उपयोग को कम करता है.

इसकी आधिकारिक वेबसाइट digilocker.gov.in है जिसपर इससे जुड़ी जानकारी दी गई है. इन स्व-अपलोड किए गए दस्तावेजों को ई-हस्ताक्षरित किया जा सकता है जो स्व-सत्यापन की प्रक्रिया के समान है. डिजी लॉकर दस्तावेजों की प्रामाणिकता को सत्यापित करना आसान बनाता है क्योंकि वे सीधे उसी व्यक्ति द्वारा अपलोड किए जाते हैं जिनके नाम पर वो दस्तावेज हैं.

जानें कौन से दस्तावेज डिजीलॉकर पर संग्रहीत कर सकते हैं?
– डिजीलॉकर ने यूआईडीएआई (भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण) के साथ भागीदारी की है ताकि नागरिकों को अपने डिजिटल आधार कार्ड नंबर का उपयोग करने की अनुमति मिल सके. डिजिटल आधार ई-आधार के समान है.
– क्लाउड-कैसड प्लेटफॉर्म ने नागरिकों को डिजिटल ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) और वाहन पंजीकरण प्रमाणपत्र (आरसी) उपलब्ध कराने के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के साथ भागीदारी की है. साझेदारी के तहत, डिजीलॉकर ने सीधे राष्ट्रीय रजिस्टर के साथ साझेदारी की है जो देश भर में ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण डेटा का राष्ट्रीय डेटाबेस है.
– यूजर्स डिजीलॉकर के साथ अपना परमानेंट अकाउंट नंबर (पैन) कार्ड भी स्टोर कर सकते हैं. इसी के साथ आयकर विभाग से वास्तविक समय के पैन सत्यापन रिकॉर्ड का उपयोग कर सकते हैं.
– डिजीलॉकर ने छात्रों की मार्कशीट के डिजिटल संस्करण प्रदान करने के लिए सीबीएसई के साथ भागीदारी की है. इन मार्कशीट को पंजीकृत और गैर-पंजीकृत सीबीएसई दोनों छात्रों द्वारा एक्सेस किया जा सकता है.

डिजीलॉकर पर दस्तावेज कैसे करें अपलोड
– डिजीलॉकर पर दस्तावेज अपलोड करने के लिए ग्राहकों को इसकी आधिकारिक वेबसाइट digilocker.gov.in पर अपलोड आइकन पर क्लिक करना होगा.
– फिर इसमें फोन की स्थानीय ड्राइव से फाइल का पता लगाया जा सकता है.
– अपलोडिंग करने के लिए ओपन पर क्लिक करें.
– अपलोड की गई फाइल के लिए एक दस्तावेज प्रकार असाइन करने के लिए, उपयोगकर्ताओं को सेलेक्ट डॉक्यूमेंट टाइप पर क्लिक करना होगा. यह विभिन्न दस्तावेज प्रकारों के ड्रॉप डाउन चयन के साथ एक पॉप अप दिखाएगा.
– अब उपयुक्त दस्तावेज प्रकार चुनें और सब्मिट पर क्लिक करें. सब्मिट करते समय फाइल का नाम भी डाल दें.

UIDAI Aadhaar card Updates: आधार कार्ड आवेदन या अपडेट करने के लिए चाहिए कौन से दस्तावेज

PAN Card Umang App: उमंग ऐप से पैन कार्ड में घर बैठे अपडेट करें डिटेल्स, ऐसे करें इस्तेमाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App