नई दिल्ली. भाजपा विधायक उदित राज पार्टी से नाराज हैं. नाराज उदित राज पार्टी छोड़कर कांग्रेस के साथ जुड़ गए हैं. बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में उदित राज ने कांग्रेस का दामन थामा. बता दें कि वो भाजपा से इसलिए नाराज थे क्योंकि पार्टी ने उन्हें उत्तर पश्चिमी दिल्ली से टिकट नहीं दिया.

उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से 2014 में उदित राज ने जीत दर्ज की थी. वहीं इस बार भाजपा ने अपने उम्मीदवारों के नाम घोषित कर दिए हैं लेकिन इनमें उदित राज का नाम नहीं है. भाजपा ने बुधवार को लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों की सूची जारी की थी. इसी के बाद उदित राज ने सोशल मीडिया के जरिए अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर अपने अकाउंट नाम में से चौकीदार शब्द हटा दिया था. हालांकि कुछ देर बाद उन्होंने वापस चौकीदार अपने सोशल मीडिया अकाउंट नाम में लिख लिया था.

अब उदित राज कांग्रेस के साथ जुड़ गए हैं. उन्होंने इससे पहले बुधवार की सुबह एक ट्वीट करके बीजेपी के खिलाफ नाराजगी दिखाई. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, अगर मुझे पहले बता दिया गया होता तो इतना कष्ट ना होता. पार्टी को इतना कष्ट क्यों करना पड़ा की नामांकन के आखिरी दिन 1 बजे नाम की घोषणा करना पड़ा. पहले कह देते तो मुझे कोई तकलीफ नहीं होती. किराएदार हूँ बात मान लेना पड़ता.

बता दें कि बीजेपी ने इस बार उत्तर पश्चिम सीट से मशहूर गायक हंसराज हंस को प्रत्याशी बनाया है. वहीं कांग्रेस ने इस सीट पर पहले ही अपने प्रत्याशी का नाम घोषित कर दिया था. कांग्रेस की ओर से इस सीट पर राजेश लिलौथिया को उतारा गया है. वहीं ये भी अहम है कि दिल्ली की सात सीटों पर लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 23 अप्रैल थी. ऐसे में अब उदित राज को दिल्ली से चुनाव लड़ने के लिए नहीं मिलेगा. संभावना है कि कांग्रेस उन्हें किसी अन्य राज्य से चुनाव लड़वा सकती है.

PM Narendra Modi Akshay Kumar ANI Interview: इंटरव्यू में अक्षय कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा सवाल- बैंक में है कितना बैलेंस, पीएम मोदी ने दिया ऐसा जवाब

Rohit Shekhar Wife Arrested: यूपी के पूर्व सीएम एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर मौत मामले में पत्नी अपूर्वा तिवारी गिरफ्तार