Monday, August 15, 2022

‘उद्धव ठाकरे भी छुट्टियां बिताने गुवाहाटी आएं’- शिवसेना बागियों के असम रूकने पर सीएम हिमंत

महाराष्ट्र राजनीतिक संकट:

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान के बीच आज राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बीजेपी ने अपना शक्ति प्रदर्शन किया। पीएम मोदी, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत सभी बीजेपी शासित मुख्यमंत्री आज एक साथ एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के नामांकन में शामिल हुए। इस दौरान मीडिया ने असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा से जब शिवसेना के बागी विधायकों के गुवाहाटी रूकने पर सवाल किया, तो सरमा ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को ही असम घूमने आने का न्यौता दे दिया।

छुट्टियां बिताने असम आएं उद्धव जी- हिमंत

असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने शिवसेना के बागियों के गुवाहाटी रूकने के सवाल पर कहा कि देश में जितने विधायक हैं मैं उनको असम में आने के लिए आमंत्रित करता हूं। मुझे नहीं पता कि कब महाराष्ट्र में सरकार बनेगी लेकिन वह (विधायक) जितने दिन भी रहेंगे वह मेरे लिए खुशी की बात है। मैं उद्धव ठाकरे जी को भी छुट्टियों के लिए बुलाना चाहता हूं।

उद्धव का समय गया- रामदास अठावले

एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के नामांकन में शामिल होने आए केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने महाराष्ट्र संकट पर कहा कि उद्धव ठाकरे का समय अब चला गया है। उनके पास आखिर में 4-5 विधायक रह सकते हैं बाकि सारे विधायक एकनाथ शिंदे के साथ जाएंगे और सरकार भाजपा-एकनाथ शिंदे की आएगी।

सब कुछ लुट गया तब होश आया- नकवी

महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट पर केंद्रीय मंत्री मुख़्तार नक़वी ने कहा कि अब जब सब कुछ लूट गया तब मुख्यमंत्री उद्धव होश में आए हैं। जनादेश का अपहरण तो आप कर सकते हैं, पर सरकार नहीं चला सकते। जनादेश आपके पास कभी नहीं था।

खुद गिर जाएगी ठाकरे सरकार- दानवे

महाविकास अघाड़ी में हुई बगावत पर रावसाहेब पाटिल दानवे ने कहा कि हम लोग सरकार गिराने के लिए नहीं है। यह लोग आपस में खुद झगड़ा करेंगे और आपस में झगडकर खुद सरकार गिरा लेंगे और वही आज हो रहा है। कोई केंद्रीय मंत्री धमकी नहीं दे रहा है और हम धमकी देंगे भी नहीं। यह उनका अंदरूनी मामला है।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news