कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले से हैवानियत की हद पार कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां 9 युवकों पर कथित रूप से दो नाबालिग लड़कियों को बंधक बनाकर करीब 15 दिन तक गैंगरेप करने का आरोप लगा है. पुलिस के मुताबिक एक पीड़ित लड़की के प्रेमी ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया है.

परिजनों की सूचना पर पुलिस ने छापेमारी कर दोनों लड़कियों को आरोपियों के चंगुल से आजाद कराया. साथ ही पुलिस ने इस वारदात में शामिल 7 युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं दो आरोपी अभी भी फरार हैं. सभी 9 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. मिली जानकारी के मुताबिक पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश में बिजुरी रेलवे स्टेशन के निकट एक स्थान से पुलिस ने 17 और 15 वर्षीय दो लड़कियों को आरोपियों के चंगुल से बचाया है. पुलिस के मुताबिक पीड़ित लड़कियां छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की सीमा पर स्थित कोरिया जिले के झागराखंड क्षेत्र की रहने वाली हैं.

कोरिया की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) निवेदिता शर्मा ने बताया कि मुख्य आरोपी अभिजीत पाल उर्फ पिंकू (20 वर्ष) का एक पीड़ित लड़की से प्रेम प्रसंग था. वह 4 मार्च को उसे शादी करने के बहाने से ले गया. इस दौरान पीड़ित लड़की की एक दोस्त उसके साथ थी. शर्मा ने बताया कि आरोपी पाल ने दोनों नाबालिग लड़कियों को एक स्थान पर बंधक बनाकर रेप किया. इसके बाद पाल और उसके आठ दोस्तों ने लेद्री और बिजुरी गांवों में इन लड़कियों को कैद कर लिया और उनके साथ कई बार रेप किया.

अधिकारी ने बताया कि पीड़ित लड़कियों के परिवारवालों ने 18 मार्च की सुबह एक शिकायत दर्ज कराई थी. एएसपी ने बताया कि एक गोपनीय सूचना पर पुलिस की एक टीम ने सोमवार तड़के बिजुरी रेलवे स्टेशन के निकट एक स्थान पर छापा मारा और लड़कियों को बचा लिया. शर्मा ने बताया कि छापे की कार्रवाई के दौरान 9 आरोपियों में से 7 को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने बताया कि पाल के अलावा अन्य आरोपियों की पहचान अशरफ अली (26), मनोज कुमार (28), हेमराज पानिका (20), अविनाश (28), जितेन्द्र राय (26) और राकेश कुमार (23) के रूप में हुई है.

गुस्से में नाबालिग लड़की ने छोड़ा घर, नागपुर में हुआ गैंगरेप

गैंगरेप के बाद नग्न लड़की को कर रहे थे किडनैप, बहादुर दंपति ने ऐसे बचाई जान

UP: चलती जीप में दो महिलाओं के साथ 4 घंटे तक गैंगरेप, आरोपी फरार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App