नई दिल्ली।उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कई रेलवे स्टेशनों और धार्मिक स्थलों को 21 मई को बम विस्फोट की धमकी वाला पत्र मिलने के बाद अलर्ट जारी कर दिया गया है। रेलवे ने जीआरपी, आरपीएफ और स्थानीय पुलिस के सहयोग से एक चेकिंग अभियान चलाया है. इसके साथ ही सुरक्षा एजेंसियां ​​भी अलर्ट पर हैं.

इन स्टेशनों को दी उड़ाने की धमकी

बता दें कि रविवार को मुरादाबाद, बरेली और हरिद्वार रेलवे स्टेशनों समेत कई स्टेशनों पर बम धमाका करने की धमकी दी गई थी. इस संबंध में रुड़की के थाना अधीक्षक को पत्र भेजा गया है। धमकी भरे पत्र भेजने वाले ने खुद को जैश-ए-मुहम्मद का एरिया कमांडर सलीम अंसारी बताते हुए 21 मई को इन स्टेशनों पर बम धमाका करने की बात कही है. इसके अलावा पत्र में हरिद्वार के कई धार्मिक स्थल और उत्तराखंड के सीएम को भी बम से उडानें की धमकी दी है। पूरे प्रकरण से थाना अधीक्षक ने आरपीएफ व जीआरपी के साथ ही मुरादाबाद के डीआरएम अजय नंदन को अवगत करा दिया है.

रुड़की स्टेशन अधीक्षक एलके वर्मा के नाम रविवार को एक अंतर्देशीय पत्र आया। भेजने वाले ने खुद को जैश-ए-मुहम्मद का एरिया कमांडर सलीम अंसारी बताते हुए कहा कि 21 मई को वह हरिद्वार, लक्सर, रुड़की, देहरादून, ऋषिकेश, काठगोदाम, मुरादाबाद और बरेली के स्टेशनों को उड़ा देगा. 23 मई को हरिद्वार के धार्मिक स्थल मंशा देवी हरकी पैड़ी को भी निशाना बनाएंगी, साथ ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को बम से उड़ा देंगे।

स्टेशन अधीक्षक रुड़की ने धमकी पत्र की एक प्रति डीआरएम को व्हाट्सएप पर भेजी है। वहीं इस पत्र से जीआरपी और आरपीएफ को भी अवगत करा दिया गया है. पत्र को गंभीरता से लेते हुए रेलवे ने यह जांच शुरू कर दी है। वहीं जीआरपी पत्र के लेखन और पत्र पर डाकघर की मुहर की जांच में लगी हुई है। आपको बता दें कि इससे पहले भी कई बार रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी मिल चुकी है.

प्रशासन अलर्ट पर

जीआरपी हरिद्वार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरुणा भारती ने कहा कि हम लगातार चेकिंग भी कर रहे हैं, सभी संदिग्ध लोगों पर भी नजर रखी जा रही है। सभी संदिग्ध सामानों की जांच कराने के निर्देश दिए गए हैं. हमें पत्र मिला है, यह पता चला है कि पूर्व में भी कुछ संगठनों ने रेलवे स्टेशन और कुछ अन्य संस्थानों को धमकी दी है। मामले में जांच चल रही है। रेलवे स्टेशन पर लगातार चेकिंग की जा रही है. संदिग्ध लोगों और वस्तुओं पर भी नजर रखी जा रही है। लोगों को भी सतर्क किया जा रहा है कि वे अपने आस-पास किसी भी संदिग्ध वस्तु के बारे में हमें सूचित करें।

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर