Terapanth Yuva Parishad organized Eye Donation : पिछले वर्ष से पूरा विश्व एक वैश्विक महामारी से पीड़ित है. पूरे विश्व की गति ठहर सी गई है, सरकारें केवल इस महामारी के निवारण के काम में दिन रात लगी हुई हैं। लॉकडाउन के कारण लोगों को अपने घरों में रहना पड़ा है। यहां तक की ऐसा भी मंजर देखा गया की लोग अपने ही परिजनों का अंतिम संस्कार करने से भी कतराए। लेकिन ऐसे संकटपूर्ण समय में एक एक संस्था ऐसी भी है जिसके कार्यकर्ताओं ने हर खतरे को मोल लेते हुए और सरकार द्वारा तय मानदंडों का पालन करते हुए मानव सेवा का काम जारी रखा, उस संस्था का नाम है अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद।

विश्व की सबसे बड़ी रक्तदाता संस्था के नाम से प्रसिद्ध अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद अपनी शाखाओं के माध्यम से अब तक 1100 से अधिक लोगों का मरणोंपरांत नेत्रदान करवाकर 2200 से ज्यादा लोगों का जीवन प्रकाशमय कर चुकी है। मानवता को रोशन करने का यह पुनीत कार्य कोरोना जैसी महामारी में भी नहीं रुका और अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद ने जनवरी 2021 से अप्रैल 2021 तक 84 नेत्रदान करवाए हैं। देश के 15 से अधिक राज्यों में 35 स्थानों पर नेत्रदान का यह महत्त कार्य कराने में संस्था के 35 शाखाओं ने भाग लिया।

Terapanth Yuva Parishad organized Eye Donation

नेत्रहीन को नेत्रदान

ग़ौरतलब है कि कोरोना की वजह से नेत्र बैंक नेत्रदान का काम नहीं कर पा रहे हैं परन्तु ‘जीवन का अनमोल वरदान, नेत्रहीन को नेत्रदान’ के ध्येय को लेकर चलने वाले अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद ने अपने संगठनात्मक तंत्र के माध्यम से यह दुष्कर कार्य करके दिखाया है। नेत्रदान को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप कोठारी कहते हैं,”नेत्रहीनों को नेत्र के रूप में हम इस दुनिया का सबसे बहुमूल्य उपहार दे सकते हैं” अपनी संस्था के कार्यकर्ताओं का सेवा कार्य के लिए सदैव उद्यत रहने का आह्वान करते हुए संदीप आगे कहते हैं,”विश्व की सबसे बड़ी रक्तदाता संस्था अब विश्व की सबसे बड़ी नेत्रदाता संस्था बनना चाहती है, हर अँधेरे जीवन को रोशन करना चाहती है” मानव कल्याण हेतु अपने सेवा कार्यों के लिए अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद पहले ही गिन्नीज बुक और लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में अपना नाम दर्ज करवा चुकी है।

Social Worker Vikas Singh: विकास सिंह: एक गतिशील युवा प्रतीक और एक सामाजिक कार्यकर्ता

Assam Board Exams 2021 :असम में नहीं रद्द होगी 10वीं और 12वीं की परीक्षा, जुलाई से अगस्त के बीच होंगे इम्तेहान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर