Monday, October 3, 2022

Target Killing: जम्मू में टारगेट किलिंग को लेकर कश्मीरी पंडितों का आज विरोध प्रदर्शन, पिछले 8 महीनों में 27 हत्याएं

Target Killing:

जम्मू। कश्मीर घाटी में पिछले कई दिनों से आतंकी आम नागरिकों को निशाना बना रहे है। स्वतंत्रता दिवस पर घाटी में निकाली गई तिरंगा यात्रा से आतंकी बौखला गए है। उन्होंने मंगलवार को दो कश्मीरी पंडितों को गोली मार दी, जिसमें एक की मौत हो गई है। दूसरा गंभीर रूप से घायल बताया जा रहा है। इस घटना के खिलाफ आज जम्मू में कश्मीरी पंडित प्रदर्शन करेंगे।

आज जम्मू में विरोध-प्रदर्शन

बता दें कि आतंकियों ने इससे पहले राहुल भट और रजनी बाला की हत्या कर दी थी। पिछले चार महीनों में टारगेट किलिंग की घटनाएं बढ़ गई हैं। आतंकी खास तौर पर कश्मीरी पंडित और प्रवासियों को निशाना बना रहे हैं। लगातार हो रहे इस हमले से परेशान कश्मीरी पंडित आज जम्मू में प्रदर्शन करेंगे।

हॉस्पिटल पहुंचे उपराज्यपाल

आतंकी हमले में घायल पीतांबरनाथ को हाल चाल जानने के लिए मंगलवार शाम उपराज्यपाल मनोज सिन्हा आर्मी हॉस्पिटल पहुंचे। वहीं कल टारगेट किलिंग में मारे गए कश्मीरी पंडित सुनील का अंतिम संस्कार कर दिया गया। जिसमें भारी संख्या में लोग शामिल हुए।

कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना

घाटी में लगातार हो रही टारगेट किलिंग की घटनाओं को लेकर बीजेपी विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है। कांग्रेस पार्टी ने कल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी पर टारगेट किलिंग की घटनाओं को लेकर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि अब समय आ गया है कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री अपनी कश्मीर नीति को लेकर देश को संबोधित करें। इसके साथ ही एक श्वेत पत्र जारी करें कि उनकी कश्मीर नीति विफल क्यों रही है।

आठ महीनों में अब तक 27 हत्याएं

गौरतलब है कि कश्मीर में पिछले आठ महीनों में आतंकियों ने 27 लोगों की हत्याएं की है। टारगेट किलिंग का शिकार हुए लोगों में कश्मीरी पंडित और सुरक्षाकर्मी शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक मरने वाले लोगों में ज्यादातर हिंदू हैं। जिसमें राजस्थान का एक बैंक मैनेजर और बिहार के तीन मजदूर शामिल हैं।

बिहार में अपना CM चाहती है भाजपा, नीतीश कैसे करेंगे सियासी भूचाल का सामना

Latest news