काबुल. अफगानिस्तान पर पूरी तरह कब्जे के बाद राजधानी काबुल से मंगलवार को तालिबान ने पूरी दुनिया को संबोधित किया, रहस्यमय प्रवक्ता जबीउल्ला मुजाहिद ने कहा कि इस्लाम में महिलाओं को जो हक मिला है उसे देने के लिए तालिबान प्रतिबद्ध है. महिलाओं के अधिकारों का पूरा सम्मान किया जाएगा, किसी को डरने की जरूरत नहीं है जिन्होंने पहले सेना या सरकार के साथ काम किया है किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे, सबको आम माफी दी जाएगी. माना जा रहा है कि तालिबान ने ये बयान देश व दुनिया के दबाव में दिया है, सरकार बनाने के बाद इस पर अमल करेगा इसको लेकर संदेह है.

Collegium Recommendation: देश को 2027 में मिल सकती हैं जस्टिस बीवी नागरत्ना के रूप में पहली महिला CJI, कॉलेजियम ने 9 नामों की सिफारिश भेजी

HDFC Bank: HDFC बैंक को बड़ी राहत, 8 महीने के प्रतिबंध के बाद अब नया क्रेडिट कार्ड जारी करने की अनुमति मिली