मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम दूसरे दिन फोरेंसिक विशेषज्ञों के साथ शनिवार दोपहर क्राइम सीन को रीक्रिएट करने अभिनेता के मुंबई स्थित फ्लैट पर पहुंची. इस दौरान टीम के साथ उनका रसोइया नीरज और फ्लैट में उनके साथ रहने वाले सिद्धार्थ पिठानी भी मौजूद रहे. सुशांत सिंह राजपूत को सबसे पहले इन्हीं दोनों ने अपने फ्लैट के पंखे से लटका पाया था. उनके सामने ही पूरे सीन को रीक्रिएट किया गया और सिलसिलेवार तरीके से समझा गया कि आखिर उस रात हुआ क्या और उन्होंने देखा क्या?

केंद्रीय जांच एजेंसी की एसआईटी टीम फोरेंसिक विशेषज्ञ के साथ दोपहर ढाई बजे मोंट ब्लांक अपार्टमेंट पहुंचे जहां सुशांत रहा करते थे. सीबीआई के अधिकारी और केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला के विशेषज्ञ सात से ज्यादा गाड़ियों में उनके आवास पर पहुंचे. जांच एजेंसी करीब तीन घंटों तक सुशांत के फ्लैट पर रुकी. इस दौरान अंदर और बाहर दोनों जगहों से टीम ने तस्वीरें ली और वीडियो बनाई. इसके अलावा टीम ने फ्लैट के भीतर हर तरफ की फोटो ली और वीडियो रिकॉर्डिंग की.

जानकारी के मुताबिक सीबीआई की एक एक और दूसरी टीम ने शनिवार को कूपर अस्पताल का दौरा किया जहां सुशांत का पोस्टमार्टम हुआ था. इस दौरान एसआईटी ने अस्पताल के डीन से भी मुलाकात की. जानकारी के मुताबिक एसआईटी टीम उन सभी डॉक्टरों से भी पूछताछ करेगी जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत का पोस्टमार्टम किया था. इसके अलावा सीबीआई की एक और टीम ने बांद्रा थाने का दौरा किया जहां उन्होंने अभिनेता की मौत की जांच करने वाले मुंबई पुलिस के अधिकारियों से मुलाकात की. इससे पहले भी टीम बांद्रा पुलिस स्टेशन का दौरा कर चुकी है.

Sushant Singh Rajput case: मौत से पहली वाली रात 10:30 बजे ही बंद हो गई थी सुशांत सिंह राजपूत के कमरे की लाइट, पड़ोसी ने किया खुलासा

Sushant Singh Rajput Case: सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े 20 सवाल, जिनका जवाब तलाश रही है सीबीआई

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर