मुंबई: सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत केस की नए सिरे से जांच शुरू कर दी है. सीबीआई टीम उस घर में भी गई जहां सुशांत सिंह राजपूत का शव घर के पंखे से लटका मिला था. वहां सीबीआई सीन रीक्रिएट कर रही है कि आखिर उस दिन हुआ क्या था. सिलसिलेवार तरीके से पूरे घटनाक्रम को दोहराया जा रहा है ताकि कोई भी ऐंगल ना छुटने पाए. इस बीच सुशांत की बिल्डिंग के पड़ोस में रहने वाली महिला ने खुलासा किया है.

सुशांत की बिल्डिंग में रहने वाली महिला ने बताया कि 13 जून की रात सुशांत के कमरे की लाइट बंद थी, सिर्फ और सिर्फ किचन की एक लाइट जल रही थी. उन्होंने बताया कि ऐसा कभी नहीं होता कि सारी लाइटें बंद हों. अक्सर सुबह 4 बजे तक सुशांत के कमरे की लाइट जलती थी. लेकिन उस दिन रात 10.30 बजे ही लाइट बंद हो गई थी. महिला का दावा है कि 13 जून की रात सुशांत सिंह राजपूत के घर पर कोई पार्टी नहीं थी. महिला ने उस दिन कुछ ना कुछ गलत होने का अंदेशा भी जताया है क्योंकि उन्होंने कभी ऐसा नहीं देखा था कि सुशांत के घर की लाइटें 10:30 बजे ही बंद हो जाए.

महिला के बयान पर यकीनन ही अब सीबीआई की टीम जांच करेगी कि आखिर उस रात ऐसा क्या हुआ कि सुशांत के कमरे की लाइटें बंद हो गई. महिला के बयान के बाद से सुशांत के कमरे का रहस्य और ज्यादा गहरा गया है. दूसरी तरफ, सुशांत केस में सीबीआई ने अपनी जांच तेज कर दी है. सुशांत के बांद्रा स्थित फ्लैट पर सीबीआई की टीम मौजूद है और करीब 12 फॉरेंसिक एक्सपर्ट, 6-8 सीबीआई अफसर मौत के दिन को रीक्रिएट कर रहे हैं. इस पूरी प्रक्रिया का वीडियो भी बनाया जा रहा है. सीन रीक्रिएशन के लिए डमी का इस्तेमाल किया जाएगा जो सुशांत की हाइट का ही होगा. सीबीआई और फॉरेंसिक की टीम के साथ सुशांत के कुक नीरज और दोस्त सिद्धार्थ पिठानी भी मौजूद हैं. दोनों सीबीआई को बताएंगे कि उस दिन क्या और कैसे हुआ था. उसी के आधार पर सीन रीक्रिएट किया जाएगा और छानबीन की जाएगी.
Sushant Singh Rajput Case: सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े 20 सवाल, जिनका जवाब तलाश रही है सीबीआई

Sushant Singh Rajput Case: घर में ताबूत क्यों रखते थे सुशांत सिंह राजपूत? को स्टॉर राम नरेश दिवाकर ने बताई कहानी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर