नई दिल्लीः देश भर के स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर गाइडलाइन जारी करने की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट 27 मार्च को सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट में प्राइवेट स्कूलों के संगठन की तरफ से कहा गया है कि वह भी बच्चों की सुरक्षा के लिए गाइड लाइन देना चाहते हैं. जिस पर शीर्ष अदालत ने निजी स्कूलों के संगठन को दो हफ्ते में हलफ़नामा दाखिल करने के लिए कहा है.

वहीं सुप्रीम कोर्ट में यचिकाकर्ता की तरफ से एक अर्जी दाखिल की गई है जिसमें कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान राज्यों के स्कूलों में कई घटनाएं हुए है लिहाजा सुप्रीम कोर्ट इस मामले में कठोर गाइड लाइन बनाये. जिस पर निजी स्कूलों के संगठनों ने कहा है कि वे भी इस मामले पर गाइड लाइन देना चाहते हैं

दरअसल पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्य सरकारों और UT को कहा था कि बच्चों की सुरक्षा को लेकर अपना जवाब दाखिल करे. गुरुग्राम के सोहना के एक विद्यालय में छात्र की हत्या के बाद स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर गाइड लाइन बनाने के मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कर रहा है. इस मामले पर अगली सुनवाई 27 मार्च को होगी.

यह भी पढ़ें- दिल्ली सीलिंग मामले पर बोले ग्रामीण विकास मंत्री- मास्टर प्लान लागू करने के अलावा और कोई उपाय नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने सभी हाईकोर्ट से मांगी पोक्सो एक्ट के तहत लंबित मामलों की सूची

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App