NEET PG Exam

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने 21 मई को होने जा रही इस साल की NEET PG परीक्षा स्थगित करने की मांग को खारिज कर दिया है. खारिज करते हुए कोर्ट ने कहा है कि जिन हजारों बच्चों ने परिक्षा की तैयारी की है, तो उन बच्चों के साथ ऐसा करना अन्याय होगा. याचिकर्ताओं के द्वारा कहा गया था कि 2021 की मेडिकल पीजी प्रवेश की प्रक्रिया अब तक जारी है. इस वजह से 2022 की परीक्षा को कुछ समय के लिए टाल दिया जाए. दरअसल आईएमए ने नीट पीजी परीक्षा को टालने की मांग की थी. दरअसल इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया के पत्र लिखकर नीट पीजी 2022 की परीक्षा स्थगित करने का आग्रह किया था. पिछले कुछ दिनों से NEET PG 2021 के छात्रों के द्वारा काउंसलिंग में देरी के चलते परीक्षा स्थगित करने की मांग की जा रही थी. जिसको देखते हुए आईएमए ने भी स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाने पर विचार करने को कहा.

IMA ने परीक्षा टालने की अपील

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से पत्र के द्वारा अपील की थी कि नीट पीजी 2022 परीक्षा का 21 मई को आयोजन स्थगित किया जाए. बता दें कि आइएमए द्वारा अपने चिट्ठी में कहा गया था कि वर्ष 2021 की काउंसलिंग और फिर परीक्षा में बहुत कम अंतर होने के कारण 5000 से अधिक मेडिकल इंटर्न अयोग्य हो गए हैं। बहुत से मेडिकल इंटर्न जिन्होंने कोविड वॉरियर के तौर पर ड्यूटी निभाई थी, वे भी फाइनल एग्जाम में देरी और अपनी इंटर्नशिप पूरी न कर पाने के चलते नीट PG 2022 में शामिल नहीं हो पा रहे हैं।

यह भी पढ़े-

ज्ञानवापी केस: वाराणसी न्यायालय का फैसला- नहीं हटाए जाएंगे कोर्ट कमिश्नर, 17 मई से पहले दोबारा सर्वे

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर