नई दिल्ली. देश के सबसे पुराने विवादित अयोध्या के राम मंदिर-बाबरी मस्जिद केस का फैसला सुप्रीम कोर्ट आज 9 नवंबर शनिवार को सुना देगा. 40 दिनों तक चली इस सुनवाई के बाद देश का हर नागरिक इस फैसले का इंतजार कर रहा है. इस फैसले को लेकर उत्तर प्रदेश सहित कई बड़ें शहरों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए गए हैं, वहीं अयोध्या को छावनी में बदल दिया गया है. अगर बात करें तो इस फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट का यह अंतिम फैसला नहीं होगा. अगर पक्षकार इस फैसले से संतुष्ट नहीं तो कोर्ट उन्हें पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) डालने का एक मौका देता है.

कोई भी पक्षकार इस पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) को डाल सकता है, हालांकि सुप्रीम कोर्ट को यह तय करना है कि वह इस याचिका को कोर्ट में सुने या चैंबर में. इसके साथ ही बेंच अगर इस याचिका में कुछ गलत पाती है तो वह अपने स्तर पर ही इसे खारिज कर सकती है. अगर बेंच को कुछ इसमें नजर आता है तो वह पक्षकार द्वारा डाली गई पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) को ऊपर के बेंच के पास भेज सकती है. अगर अब तक के कोर्ट के फैसले को देखें तो बेंच अपने स्तर पर ही याचिका पर फैसला ले लेती है.

क्यूरेटिव पिटीशन (उपचार याचिका) की बात करें तो कोर्ट के फैसले के खिलाफ यह दूसरा और अंतिम विकल्प होता है. यह विकल्प सुप्रीम कोर्ट द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद भी पक्षकार के पास होता है. क्यूरेटिव पिटीशन पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) से अलग होता है, इसमें आपको उन मुद्दों या विषयों को चिन्हित करना होता है जिनमें लगता है कि इन पर ध्यान देने की जरुरत है. अगर इसके बाद किसी केस का फैसला होता है तो वह केस खत्म हो जाता है और सुनाय गया निर्णय सर्वमान्य होता है.

ये भी पढ़ें

Ayodhya Ram Mandir Babri Masjid Supreme Court Verdict Social Media Reactions Live Updates: अयोध्या राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले ऐसा है सोशल मीडिया पर लोगों का रिएक्शन

Ayodhya Verdict Ram Janmabhoomi Babri Masjid Case Today: अयोध्या राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले पर आज फैसले से पहले जानिए 40 दिन तक चली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में क्या बहस हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App