नई दिल्ली: अयोध्या राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई सोमवार को एक घंटे तक और चलेगी. यानी कोर्ट की कार्रवाई शाम चार बजे खत्म ना होकर पांच बजे तक चलेगी. ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के चार नए जजों का शपथग्रहण है लिहाजा मामले की सुनवाई को एक घंटे तक तक सुना जाएगा. गौरतलब है कि अयोध्या राम जन्मभूमि मामले की सुनवाई हर रोज हो रही है. सोमवार से शुक्रवार तक हर रोज पांच जजों की संवैधानिक बेंच मामले की सुनवाई कर रही है

रोज सुनवाई के पीछे कारण ये  है कि चीफ जस्टिस नवंबर में रिटायर हो रहे हैं और सुप्रीम कोर्ट की परंपरा के मुताबिक किसी मामले की सुनवाई कर रही संवैधानिक पीठ का कोई भी जज अगर रिटायर होता है तो मामले की सुनवाई शुरू से शुरू होगी. इसके पीछे दलील ये दी जाती है कि जो नए जज सुनवाई में शामिल हो रहे हैं उन्हें केस में हुए अबतक के अप्डेट के बारे में कोई जानकारी नहीं है. लिहाजा सुनवाई शुरू से शुरू की जाए. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों ये भी कहा था कि जरूरत पड़ने पर वो शनिवार को भी अयोध्या मामले की सुनवाई के लिए तैयार है.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने शुक्रवार को मामले की सुनवाई करते हुए हिंदू और मुस्लिम पक्ष की काउंसिल से कहा कि उन्होंने तय किया है कि सोसवार से मामले की सुनवाई पांच बजे तक चलेगी. अयोध्या राम जन्मभूमि मामले की सुनवाई कर रही संवैधानिक पीठ में चीफ जस्टिस के अलावा जस्टिस एस ए बोबड़े, वाई एस चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और एस ए नज़र शामिल हैं. अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मामले की सुवाई अगर 18 अक्टूबर तक पूरी हो जाती है तो मुमकिन है कि 15 नवंबर तक कोर्ट इसपर फैसला सुना दे. इस मामले में रामलला विराजमान की तरफ से बहस पूरी हो चुकी है और अब मुस्लिम पक्ष की तरफ से राजीव धवन कोर्ट में जिरह कर रहे हैं. 

Ayodhya Land Dispute Case SC Hearing Day 26 Written Updates: अयोध्या मामले में हुई 26वें दिन की सुनवाई, जानिए मुस्लिम पक्ष की दलीलों पर क्या बोला सुप्रीम कोर्ट, कल भी जारी रहेगी सुनवाई

Ayodhya Land Dispute Case SC Hearing Day 27 Written Updates: अयोध्या मामले में हुई 27वें दिन की सुनवाई, जानिए मुस्लिम पक्ष की दलीलों पर क्या बोला सुप्रीम कोर्ट, कल भी जारी रहेगी सुनवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App