नई दिल्ली. कांग्रेस सांसद शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत पर एक रिपोर्ट के आने से रहस्य और गहरा गया है. दरअसल, दिल्ली के तत्कालीन डिप्टी कमिश्नर बीएस जैसवाल ने अपनी रिपोर्ट में इस बात का संकेत दिया है कि सुनंदा पुष्कर की मौत स्वाभाविक नहीं थी, बल्कि उनकी हत्या हुई थी. यह रिपोर्ट जैसवाल ने दिल्ली पुलिस के तत्कालीन ज्वाइंट कमिश्नर (दक्षिण क्षेत्र) को सौंपी थी.

जैसवाल ने अपनी रिपोर्ट में एम्स की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि सुनंदा के शरीर पर दांत से काटे जाने के निशान, सीरींज के घाव सहित हाथापाई के दौरान आए खरोंच के निशान मिले थे जो उनकी हत्या की तरफ साफ इशारा करते हैं. 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के लीला पैलेस होटल के एक कमरे में कांग्रेस सांसद की पत्नी सुनंदा पुष्कर की लाश संदिग्ध हालत में मिलने से हंगामा मच गया था. इस मामले को चार साल बीतने के बाद भी दिल्ली पुलिस अभी तक किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंची है.

पहली ऑटोप्सी रिपोर्ट के मुताबिक, सुनंदा की मौत जहर से हुई थी. इस जहर का नाम था अल्प्राजोलम पॉइजन. इस रिपोर्ट के मुताबिक, सुनंदा के शरीर पर जो चोट के निशान थे वे 12 घंटे से 4 दिन पहले के थे. उनके शरीर पर scuffle के निशान भी मिले. उनके नौकर नारायण के मुताबिक, scuffle के ये निशान सुनंदा और शशि थरूर के बीच हुई मारपीट की वजह से थे. इस रिपोर्ट के जो दावे हैं उसके अनुसार सुनंदा की मौत साधारण या रहस्यमयी तरीके से नहीं हुई थी बल्कि उनका मर्डर हुआ था. इसकी रिपोर्ट भी पुलिस ने दो साल बाद दर्ज की. हालांकि नए खुलासे से अब क्या निकलता है यह आने वाला समय ही बताएगा.

फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने वाले शशि थरुर की हिन्दी आपको चौंका देगी

सुनंदा पुष्कर मौत मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज की सुब्रमण्यम स्वामी की याचिका

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App