नई दिल्ली/ भारत में दिन प्रतिदिन कोरोना वायरस के नए-नए मामलों की पुष्टि हो रही हैं. रोजाना रिकॉर्ड टूटते जा रहे हैं. इसी बीच एक अच्छी खबर सामने आ रही हैं. कोरोना महामारी से निपटने के लिए डॉक्टरों के पास एक और हथियार मिल गया हैं. रूस की कोरोना वैक्सीन ‘स्पुतनिक V’ को मोदी सरकार ने आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. इसी के चलते कोरोना से निपटने की लिए देश को तीसरी वैक्सीन मिल गई हैं.बता दें कि वैक्सीन डॉ रेड्डीज़ के सहयोग से तैयार हो रही स्पुतनिक V, बायोलॉजिकल ई के सहयोग से बन रही जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन, सीरम इंडिया के सहयोग से तैयार की जा रही नोवावैक्स वैक्सीन, जायडस कैडिला वैक्सीन और भारत बायोटेक की इंट्रानसल वैक्सीन हैं.

देश में कोवैक्सीन और कोविशील्ड का इस्तेमाल पहले से ही किया जा रहा हैं और इनकी 10 करोड़ से अधिक खुराक लोगों को दी जा चुकी है. बता दें कि रूसी वैक्सीन को ऐसे वक्त पर मजूरी दी गई है जब देश में अब तक के सर्वाधिक दस हजार के पार नए कोरोना केस सामने आए हैं और संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,35,27,717 हो गई है. महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना के रिकॉर्ड 63 हजार से ज्यादा केस आए हैं. अकेले मुंबई में ही करीब 10 हजार नए मामले दर्ज हुए हैं. कोरोना संक्रमण के कारण देश में अब तक कुल 1,70,179 लोगों अपनी जान गंवा चुके हैं.

गौरतलब है कि देश में रविवार 11 अप्रैल से ‘टीका उत्सव’ की शुरुआत हुई है. इसके पहले दिन रविवार शाम तक 27 लाख से ज्यादा कोविड-19 रोधी टीके की खुराक दी गई हैं. इसके साथ ही देश में अब तक टीके की 10,43,65,035 खुराक दी जा चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. देश में 11-14 अप्रैल के बीच चल रहे कोविड-19 टीकाकरण अभियान को ‘टीका उत्सव’ नाम दिया गया है.

Corona Update : किसी राज्य में मरीज को नहीं मिल रहा बेड तो कही ऑक्सीजन की कमी जानें आपके राज्य का क्या है हाल

Meerut Unique Case of Marriage: दूल्हे के साथ सातों फेरे लेने के बाद दुल्हन नगदी-जेवरात लेकर हुई फरार, जानें पूरा मामला