July 17, 2024
  • होम
  • स्पीकर चुनाव: भाजपा की बढ़ी चुनौती, शिवसेना ने चंद्रबाबू नायडू को समर्थन देने का किया ऐलान

स्पीकर चुनाव: भाजपा की बढ़ी चुनौती, शिवसेना ने चंद्रबाबू नायडू को समर्थन देने का किया ऐलान

नई दिल्ली: लोकसभा अध्यक्ष पद को लेकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में घमासान मचा हुआ है. एनडीए सरकार में शामिल चंद्रबाबू नायडू की तेलुगु देशम पार्टी ने लोकसभा अध्यक्ष पद पर दावा ठोक दिया है. इसका जिक्र करते हुए शिवसेना यूबीटी नेता और सांसद संजय राउत ने बीजेपी की आलोचना की है.

आपको बता दें कि लोकसभा अध्यक्ष का पद बहुत महत्वपूर्ण होता है. राहुल नार्वेकर महाराष्ट्र विधानसभा में बीजेपी के पॉलिटिकल एजेंट थे. उनकी वजह यह घोषणा की गई है कि शिव सेना संविधानेतर तरीके से विभाजित हो गई है. संजय राउत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने माना कि शिंदे गुट का व्हिप और राज्यपाल का पूरा कार्य अवैध था. कल लोकसभा में बीजेपी का अध्यक्ष बनने पर भी यही परिणाम मिल सकता है. वहीं राउत ने आरोप लगाया है कि लोकसभा अध्यक्ष बनने के बाद वह चंद्रबाबू नायडू, चिराग पासवान और नीतीश कुमार की पार्टी को तोड़ देंगे, जिनके समर्थन पर सरकार खड़ी है.

संजय राउत ने कहा कि देश में 2014, 2019 जैसे हालात नहीं हैं. एनडीए सरकार स्थिर नहीं है. कुछ भी हो सकता है. चंद्रबाबू नायडू ने लोकसभा अध्यक्ष का पद मांगा है और उनके साथ डील हो गई है. अगर लोकसभा अध्यक्ष पद पर एनडीए का कोई व्यक्ति नहीं बैठा तो मोदी-शाह सबसे पहले तेलुगु देशम पार्टी को तोड़ेंगे.

मोहन भागवत और योगी आदित्यनाथ की मुलाकात पर राउत ने कहा कि दो बातें ध्यान रखनी चाहिए, जहां तक ​​मेरी जानकारी है, संसदीय बैठक में मोदी को भारतीय जनता पार्टी का नेता नहीं चुना गया है. मुझे बताया गया है कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की बैठक में मोदी को नेता चुना गया. अगर भारतीय जनता पार्टी की संसदीय दल की बैठक में नेता पद का सवाल उठता तो कुछ और ही फैसला देखने को मिलता, इसलिए ये बेहद गंभीर बात है कि बीजेपी के साथ उस बैठक में मोदी को नेता चुना गया. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के घटक दल की बैठक में बोलने के बाद मैं आपसे फिर कहता हूं कि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री के तौर पर चंद दिनों के मेहमान हैं.

संजय राउत ने कहा कि अगर लोकसभा अध्यक्ष पद के उम्मीदवार चंद्रबाबू नायडू अपनी उम्मीदवारी देते हैं तो हम उन्हें समर्थन देने पर विचार करेंगे. राउत ने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष का पद बहुत महत्वपूर्ण है और राज्य विधानसभा के अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने भाजपा के एजेंट के रूप में काम किया. उन्होंने एक फर्जी परिणाम दिया. यही परिणाम कल हो सकता है जब भाजपा बन जाएगी लोकसभा अध्यक्ष, राउत ने कहा कि वे नायडू, चिराग पासवान, नीतीश कुमार की पार्टियों को तोड़ देंगे.

येभी पढ़ें…

बद्रीनाथ जा रहा श्रद्धालुओं से भरा टेंपो ट्रैवलर खाई में गिरा, 10 लोगों की गई जान

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन