Thursday, August 11, 2022

Presidential Election 2022: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने विधायकों से की अपील यशवंत सिन्हा को वोट दें

लखनऊ। देश में अगले महीने में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने जा रहा है। राष्ट्रपति पद के लिए सत्ताधारी पार्टी एनडीए ने द्रौपदी मुर्मू को उम्मीदवार बनाया है. वहीं विपक्ष ने यसवंत सिन्हा को अपना उम्मीदवार बनाया है। दोनों तरफ से चुनाव की तैयारियां चल रही है. बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अपनी पार्टी के सांसद, विधायकों के अलावा संगठन के पदाधिकारियों के साथ बैठक की. जिसमें चुनाव की रणनीति को लेकर मंथन हुआ. इस मंथन में तय हुआ कि विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को एकजुटता के साथ वोट ही नहीं देना है बल्कि उनके पक्ष में ज्यादा से ज्यादा वोट दिलाने के लिए भी काम करना है.

गौरतलब है कि वर्तमान समय में समाजवादी पार्टी और उसके सहयोगी दल रालोद, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी आदि को मिला कर कुल 125 विधायक हैं. वहीं सपा और सहयोगी दलों के राज्यसभा में पांच सांसद हैं. इसके अलावा लोकसभा में अभी तीन सांसद हैं, जबकि दो सीटों पर उपचुनाव हो रहा है. वहीं राष्ट्रपति चुनाव के रुप में देखा जाए तो यूपी में एक विधायक का वेटेज 208 है और सांसद का वेटेज 700 है. इस तरह सपा और सहयोगी दलों को मिला कर उनके मतों का वेटेज 26 हजार बन रहा है.

यूपी विधानसभा में सपा के हैं कितने विधायक

बता दें कि उत्तर प्रदेश में 403 विधानसभा सदस्यों में से बीजेपी और इसके सहयोगी दलों के 273 विधायक हैं. यदि समाजवादी पार्टी गठबंधन के विधायकों और सांसदों की संख्या के आधार पर उनके वोट का वेटेज तय करें तो सपा गठबंधन के 125 विधायकों के वोट का वेटेज 26,000 होगा. इसी तरह सपा के अभी 3 लोकसभा और 3 राज्यसभा सांसदों का वेटेज 4200 है.

कब खत्म होगा राष्ट्रपति कोविंद का कार्यकाल

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का 24 जुलाई को कार्यकाल खत्म हो जाएगा. ऐसे में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर शुक्रवार को प्रदेश मुख्यालय में विधायकों-सांसदों व प्रमुख नेताओं की एक बैठक बुलाई, जिसमें विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को यूपी से अधिकतम वोट दिलाने के लिए सभी को एक-जुट होने के लिए कहा. बैठक में उन्होंने सभी को पूरी एकजुटता के साथ यशवंत सिन्हा के लिए वोट देने की अपील भी की है.

महिला और आदिवासी समाज से आती हैं मुर्मू

दरअसल इस बैठक के बाद कानपुर से सपा विधायक मोहम्मद हसन रूमी (Mohd Hasan Rumi) ने एनडीए (NDA) प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी कह रही है कि वो महिला और आदिवासी समाज से आती हैं, इसलिए मुर्मू को उम्मीदवार बनाया गया गया है. तो फिर आज तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनको डिप्टी पीएम क्यों नहीं बनाया.

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news